ताज़ा खबर :
prev next

इंटरनेशनल कांफ्रेंस में सोलर बेस्ड टेक्नोलॉजी के नये आयामों पर हुई चर्चा

आईएमएस इंजीनियरिंग काॅलेज गाज़ियाबाद में शुक्रवार से दो दिवसीय इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस रीसेंट एडवांसेस इन नाॅन कन्वेंशनल एनर्जी रिसोर्सस यूजिंग सोलर बेस्ड टेक्नोलाॅजीस का भव्य शुभारम्भ हुआ। कार्यक्रम का शुभारम्भ प्रो (डा.) महेन्द्र सुंकारा ने किया।

इस अंतर्राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस में अमेरिका, यूके, जर्मनी, मलेशिया एवं भारत के शिक्षाविद, वैज्ञानिक, तकनीकविद एवं रिसर्च स्कालर ने गैर परम्परागत ऊर्जा एवं सोलर बेस्ड टेक्नोलॉजी के नये
आयामों की चर्चा की। विदेश से आये विशेषज्ञों में प्रो महेन्द्र सुंकारा, निदेशक, काॅन सेंटर फार रिन्यूवेवल रिसर्च, यूनिवर्सिटी ऑफ लुइसविले, प्रो रामचन्द भण्डारी (इन्स्टीट्यूट फॅार टेक्नोलाॅजी एण्ड रिसोर्स मैनेजमेन्ट), टीएच कोल्न, जर्मनी, डा. एस. सुन्दरम, यूके एवं डा. आदर्श कुमार पाण्डे, रिसर्च सेन्टर फॉर नैनोमेटेरियल्स एण्ड एनर्जी टेक्नोलॉजी, सनवे यूनिवर्सिटी मलेशिया प्रमुख थे।

इस अवसर पर डा. ए के सक्सेना, पूर्व जीएम एण्ड हेड, अमोर्फोस सिलिकॉन सोलर सेल प्लांट, बीएचइएल, दिल्ली एवं डा. पी वेंकटेश्वरलू, जीएम इंजीनियरिंग जेक्सन इंजीनियर्स लि. नोएडा भी
उपस्थित थे। कार्यक्रम में प्रो. महेन्द्र सुंकारा ने बढती हुई जनसंख्या की ऊर्जा आवश्यकताओं में तेजी से वृद्धि और उनकी पूर्ति के लिए नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में शोध की जरूरत पर बल दिया। कार्यक्रम में डा. ए के सक्सेना, पूर्व जीएम एण्ड हेड, अमोर्फोस सिलिकॉन सोलर सेल प्लांट (बीएचइएल दिल्ली) ने सोलर स्पेक्ट्रम के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डालते हुए सोलर सेल की दक्षता बढ़ाने के विभिन्न तरीकों से अवगत कराया। जर्मनी से आये प्रो. रामचन्द भण्डारी ने जर्मनी में नवीकरणीय ऊर्जा की विकास यात्रा से सभी को अवगत कराया।

कार्यक्रम के दूसरे दिन यानी शनिवार को डा. आदर्श कुमार पाण्डेय फेलो रिसर्च सेंटर फाॅर नैनो मटेरियल एंड एनर्जी टेक्नोलॉजी, सिलेनार मलेशिया फेज चेंजिंग मैटेरियल के महत्व एवं उसके अनुप्रयोग पर विचार व्यक्त करेंगे। साथ ही सौर ऊर्जा विशेषज्ञ पंकज कुमार भारत के सामाजिक और आर्थिक प्रगति में सौर ऊर्जा की भूमिका और इस दिशा में भारत में चल रहे शोध पर ध्यान केंद्रित करने का प्रयास करेंगे। इस इंटरेनेशनल कांफ्रेंस का सफल आयोजन मैकेनिकल इंजीनियरिंग के विभागाध्यक्ष डा. वीके सैनी के दिशा निर्देशन में हुआ। कांफ्रेंस को एकेटीयू तथा एआईसीटीई द्वारा प्रायोजित किया गया था।

 

 

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *