ताज़ा खबर :
prev next

रैपिड रेल को लेकर योगी सरकार ने दिखाई तेज़ी, 21 अगस्त को मुख्यालय में बुलाए जिले के बड़े अधिकारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अत्यंत महत्वपूर्ण योजनाओं में शामिल दिल्ली मेरठ रैपिड रेल के कार्य को और गति देने के लिए मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडे ने उच्चस्तरीय बैठक बुलाई है। 21 अगस्त को लखनऊ में होने वाली इस उच्च स्तरीय बैठक में कमिश्नर, जिलाधिकारी के साथ शासन के आलाधिकारी, एनसीआरटीसी के अधिकारी शामिल होंगे। विशेष तौर पर जीडीए की उपाध्यक्ष कंचन वर्मा व जिले की दो तहसील मोदीनगर तथा गाजियाबाद के एसडीएम को बुलाया गया है।

प्रशासनिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुख्य सचिव के निर्देश पर शासन के उप सचिव संजय कुमार सिंह ने इस संबंध में सूचना जारी की है। इससे पूर्व मुख्य सचिव स्तर पर बैठक 9 अगस्त को होनी थी, लेकिन भारत छोड़ो आंदोलन की 77 वीं वर्षगांठ पर पूरे प्रदेश में वृहद स्तर पर वृक्षारोपण अभियान को लेकर बैठक स्थगित कर दी गयी। उप सचिव संजय सिंह ने पत्र के हवाले से इस बैठक में शासन के विभिन्न विभागों के अपर मुख्य सचिव को भी शामिल होने का अनुरोध किया है।

आपको बता दें कि दिल्ली-मेरठ रैपिड रेल प्रधानमंत्री की महत्वपूर्ण योजनाओं में शामिल है, प्रधानमंत्री कार्यालय से रैपिड के कार्यों की हो रही मानिटिरिंग के कारण ही मुख्य सचिव स्तर पर लगातार समीक्षा की जा रही है ताकि कार्य में गति लाई जाए। मुख्य सचिव ने निर्देश पर उप सचिव ने एनसीआरटीसी के एमडी को रैपिड रेल से संबंधित विशेष एजेंडा बैठक से एक सप्ताह पूर्व उपलब्ध कराने को कहा है। मुख्य सचिव इस बार नगर विकास, परिवहन, पीडब्ल्यूडी,औद्योगिक विकास राजस्व, उच्च शिक्षा, पर्यटन सिंचाई आदि विभागों के विचार करेंगे। बैठक में मेरठ मंडल की आयुक्त अनीता सी मेश्राम, डीएम अजयशंकर पांडे, एसडीएम सदर आदित्य प्रजापति, मोदीनगर एसडीएम डीपी सिंह, जीडीए की वीसी कंचन वर्मा, नगर निगम आयुक्त को विशेष तौर से बुलाया गया है।

प्रथम चरण के कार्य ने पकड़ी है गति
दिल्ली मेरठ रैपिड रेल का काम में जिस प्रकार मेरठ व गाज़ियाबाद जिले में रफ्तार पकड़ी हैं, कार्यों को गति देने के लिए जिलाधिकारी अजयशंकर पांडेय ने मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेस-वे के कार्य में डासना व उसके आस पास के चार गांवो के किसानों के मुआवजे सहित अन्य विवादों को शीघ्र हल कराने के लिये शासन को भेजा है। जिससे एक्सप्रेस-वे का निर्माण होते ही रैपिड के कार्यों को तेजी से गति दी जा सकें। इस कार्य के चलते लोगों को जाम व दुर्घटनाओं से निजात मिल सकेगी। बहरहाल दिल्ली में अभी मामला पूरी तरह से ठीक नहीं होने के कारण एनसीआरटीसी ने साहिबाबाद से दुहाई के बीच प्राथमिकता के साथ काम शुरू किया है, कार्य को गति देने के लिये उपयुक्त स्थानों पर बैरेकेटिंग कर मशीनों से रात दिन कार्य की शुरूआत कर दी है। प्रथम चरण में 2023 तक कार्य पूर्ण करने का लक्ष्य है।

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *