ताज़ा खबर :
prev next

इंदिरापुरम में तैनात रहे पांच अवर अभियंताओं पर होगी कार्रवाई, शासन को भेजे पत्र

गाज़ियाबाद। इंदिरापुरम में स्वीकृत नक्शे से अधिक फ्लैट बनने के मामले में जीडीए ने पांच अवर अभियंताओं के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए शासन को पत्र भेज दिया है। अवैध निर्माण के लिए इन्हें दोषी ठहराया गया है। जीडीए वीसी कंचन वर्मा ने बताया कि पांचों अवर अभियंता वर्ष 2012 से 2016 के बीच इंदिरापुरम प्रवर्तन जोन-छह में तैनात रहे हैं।

शाहबेरी मामले में मुख्यमंत्री का सख्त रवैया देखते हुए जीडीए अधिकारियों ने प्राधिकरण की आवासीय योजनाओं में इंदिरापुरम का सर्वे कराया था। यहां अवैध रूप से बनी 264 इमारतों को चिह्नित किया था। इन इमारतों का निर्माण स्वीकृत नक्शे से अलग किया गया था। फ्लैट निर्धारित संख्या से अधिक बनाए गए थे। एक इमारत ऐसी सामने आई थी, जिसमें 250 वर्ग मीटर क्षेत्रफल के भूखंड पर 28 फ्लैट बने हुए मिले थे।

इस मामले में यहां के 25 से ज्यादा बिल्डरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जा चुका है। जीडीए ने इनके बनने के लिए जिम्मेदार अवर अभियंताओं की सूची बनाने का काम शुरू किया है। पांच अवर अभियंताओं के नाम चिह्नित कर कार्रवाई के लिए शासन को भेज दिए गए हैं। छह अभियंताओं के खिलाफ पहले भेजे गए पत्र

इससे पहले जीडीए छह अवर अभियंताओं के खिलाफ कार्रवाई के लिए शासन को पत्र भेज चुका है। प्रवर्तन जोन-चार के अंतर्गत शास्त्रीनगर, प्रवर्तन जोन-आठ के विक्रम एंक्लेव, प्रवर्तन जोन-सात के राजेंद्रनगर और प्रतर्वन जोन एक सिहानी क्षेत्र में हुए अवैध निर्माण के लिए इन्हें जिम्मेदार ठहराया गया है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *