ताज़ा खबर :
prev next

यूपी : डायल-112 पहुंचे सीएम योगी, 600 से ज्यादा फेसबुक अकाउंट ब्लॉक करने की तैयारी

यूपी। अयोध्या भूमि विवाद पर आज सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुना दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या केस पर फैसला सुनाते हुए शुरू में ही शिया वक्फ बोर्ड औ निर्मोही अखाड़ा की याचिकाएं खारिज कर दी हैं। इसके साथ ही कहा है कि मुसलमानों को मस्जिद के लिए दूसरी जगह दी जाएगी। यह फैसला सभी जजों की सहमति से हुआ है। वहीं इस फैसले को लेकर पूरे प्रदेश में धारा 144 लागू है। डीजीपी मुख्यालय पर सोशल मीडिया मॉनिटरिंग टीम बनाई गई है। इस टीम की जिम्मेदारी सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वालों को चिन्हित करना है। वहीं, सुरक्षा के मद्देनजर सीएम योगी आदित्यनाथ डायल-112 पहुंच गए हैं।

प्रशासन ने हिदायत दी है कि सोशल मीडिया पर भड़काऊ बयान और पोस्ट करने वालों के खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा। गठित टीम वॉट्सऐप ग्रुप के एडमिन पर खास नजर बनाए हुए है। इसके अलावा ट्विटर और फेसबुक की भी मॉनिटरिंग की जा रही है। डीजीपी के मुताबिक, 600 से अधिक फेसबुक अकाउंट ब्लॉक करने की तैयारी है। वहीं, आपत्तिजनक पोस्ट के लिए करीब 42 यूजर्स को गिरफ्तार किया गया है।

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओ.पी. सिंह ने कहा, ‘हमारे सोशल मीडिया सेल इंटरनेट पर उन 676 लोगों पर लगातार नजर रख रहे हैं, जिनकी पोस्ट या टिप्पणियां परेशानी का सबब बन सकती हैं। हमारे पुलिसकर्मियों ने जिले, पुलिस स्टेशन और स्थानीय स्तर पर संभावित खतरों और हॉट स्पॉट की पहचान की है। हमने कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए 31 संवेदनशील जिलों की पहचान की जैसे-आगरा अलीगढ़, मेरठ, मुरादाबाद, लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज, गोरखपुर और अन्य।’

डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि अयोध्या में पैरामिलिट्री फोर्स को तैनात किया गया है। हवाई निरीक्षण भी किया जा रहा है। इंटेलिजेंस मशीनरी भी काम पर लगी हुई है और औचक निरीक्षण भी किया जा रहा है। सुरक्षा इंतजामों पर नजर रखने के लिए अयोध्या में एक एडीजी रैंक के अफसर की तैनाती की गई है। अयोध्या मामले पर फैसले से पहले उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा, हमने सुरक्षा को लेकर चाक-चौबंद इंतजाम किए हैं। राज्य के धार्मिक नेताओं और नागरिकों के साथ 10 हजार बैठकें की गई हैं।

पैरामिलिट्री फोर्स की 60 कंपनियां

उत्तर प्रदेश पुलिस के एडीजी आशुतोष पांडे ने कहा कि पैरामिलिट्री फोर्स की 60 कंपनियां, आरपीएफ और पीएसी और 1200 पुलिस कॉन्स्टेबल, 250 सब-इंस्पेक्टर्स, 20 डिप्टी सुप्रिटेंडेंट और 2 एसपी की तैनाती की गई है। डबल लेयर बैरिकेडिंग, पब्लिक अड्रेस सिस्टम लगाया गया है। साथ ही 35 सीटीटीवी और 10 ड्रोन कैमरों के जरिए निगरानी रखी जा रही है। लोगों के रामलला के दर्शनों पर कोई पाबंदी नहीं है। सभी मार्केट खुले हैं और स्थिति पूरी तरह सामान्य है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *