ताज़ा खबर :
prev next

दिल्ली-एनसीआर में सुरक्षा चाक-चौबंद, जिलाधिकारी-पुलिस फोर्स गश्त पर

नै दिल्ली। अयोध्या मामले में जिस फैसले का इंतजार था वह अब आ चुका है। अदालत ने अपने फैसले में कहा कि सुन्नी वक्फ बोर्ड अयोध्या विवाद में अपना दावा रखने में विफल हुआ है। मुस्लिम पक्ष ऐसे सबूत पेश करने में विफल रहा है कि विवादित जमीन पर सिर्फ उसका ही अधिकार है। कोर्ट ने फैसले में कहा कि सुन्नी वक्फ बोर्ड को अलग जमीन दी जाए। सुप्रीम कोर्ट ने निर्देश दिए हैं कि मुस्लिमों को नई मस्जिद बनाने के लिए वैकल्पिक जमीन दी जाए।

फैसले को देखते हुए दिल्ली-एनसीआर में शुक्रवार रात से ही हाई अलर्ट जारी है। सभी पुलिसकर्मियों को अलर्ट व मुस्तैद रहने के सख्त आदेश दिए गए हैं। शनिवार सुबह आठ बजे से पुलिसकर्मी मुस्तैद हैं। संवेदनशील इलाके में विशेष नजर व अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किया गया है। सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर विशेष नजर रखी जा रही है।

पुलिस ने लोगों को सलाह दी है कि सोशल मीडिया प्लेटफार्म का विवेक से इस्तेमाल करें। धार्मिक सौहार्द बिगाड़ने वाले व असत्यापित पोस्ट को आगे न भेजें। दिल्ली पुलिस को आशंका है कि शरारती तत्व धार्मिक सौहार्द को बिगाड़ सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट की सुुरक्षा को बढ़ा दी गई है। वहां भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

गाज़ियाबाद में पुलिस-पीएसी की सवा तीन सौ टीमें जिले में तैनात
गाज़ियाबाद में पुलिस-पीएसी की सवा तीन सौ टीमें जिले में उतर चुकी हैं। एसएसपी और डीएम लगातार भ्रमण पर हैं। कंट्रोल रूम से लगातार अपडेट ली जा रही है। लखनऊ से भी मॉनिटरिंग की जा रही है। बुलंदशहर और हापुड़ में भी फोर्स सड़क पर। सभी जगह शांति है।

ग्रेटर नोएडाः बिलासपुर में एसडीएम ने पुलिस फोर्स के साथ किया गश्त
एसडीएम कस्बे की मस्जिदों का दौरा कर रहे हैं। शनिवार को सुबह से ही एसडीएम सदर प्रसून द्विवेदी बिलासपुर पहुंच कर सभी प्रमुख बाजारों एवं धार्मिक स्थलों विशेषकर मस्जिदों का निरीक्षण किया। उन्होंने बिलासपुर पुलिस चौकी प्रभारी भूपेंद्र सिंह व एसआई दीपक चाहर समेत अन्य पुलिसकर्मियों को साथ लेकर निरीक्षण किया और सब लोगों से सुप्रीम कोर्ट के आने वाले संभावित फैसले का सम्मान करने और उसके बाद आम लोगों से शांति व्यवस्था को बनाए रखने की अपील की।

दिल्ली पुलिस ने फैसले के मद्देनजर हाई अलर्ट किया जारी
पुलिस मुख्यालय से दिए निर्देशों में कहा गया है कि संवेदनशील इलाकों में विशेष सुरक्षा व्यवस्था की जाए। हर थाने में रिजर्व फोर्स रखी जाए जिसका जरूरत पड़ने पर इस्तेमाल किया जा सके।जिला पुलिस अमन कमेटियों के संपर्क में रहेगी और लगातार उनसे बात कर रही है। पुलिस मुख्यालय ने यह भी कहा है कि सभी जिला डीसीपी फायर विभाग से तालमेल बनाकर रखे हुए हैं। शनिवार सुबह आठ बजे से पुलिसकर्मी तैनात हैं। जिला के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी खुद गश्त कर रहे हैं।  सूचना के लिए वह स्थानीय लोगों के संपर्क में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *