ताज़ा खबर :
prev next

ज्वेलरी शॉप में बदमाशों ने तमंचे के बल पर सराफ को लूटा, पत्नी के पेट में मारी लात, गर्भपात

गाज़ियाबाद। डीएलएफ कॉलोनी स्थित एक सराफे की दुकान पर बाइक सवार दो बदमाशों ने तमंचे के बल पर लूटपाट की। विरोध करने पर दंपति से मारपीट की। दो राउंड फायरिंग भी की। एक बदमाश ने दुकान में बैठी ज्वेलर की गर्भवती पत्नी के पेट में लात मार दी। महिला को गर्भपात कराना पड़ा। बदमाश चार लाख के जेवर, मोबाइल और 10 हजार रुपये ले गए। पीड़ित ने कोतवाली में तहरीर दी है।

लोनी के एसएलएफ बी-1 में राजनाथ गुप्ता परिवार के साथ रहते हैं। उनकी डीएलएफ केशव मार्केट में ज्वेलरी शॉप है। उन्होंने बताया कि शनिवार शाम वह गर्भवती पत्नी रागनी के साथ दुकान पर बैठे थे। बाइक सवार दो युवक दुकान पर आए। दोनों ने हेलमेट लगा रखा था। दुकान में आकर उन्होंने एक अंगूठी दिखाने को कहा। राजनाथ ने उन्हें अंगूठी दिखा दी। युवक ने अंगूठी जेब में रखकर गल्ले में रखे रुपये देने के लिए कहा। राजनाथ ने मना किया तो उसके दूसरे साथी ने तमंचा निकालकर फायरिंग कर दी। गोली उनकी कुर्सी के पास दीवार में जा लगी। वह डर गए और बदमाशों ने गल्ले में रखे करीब 10 हजार रुपये निकल लिए।

इसके बाद बदमाशों ने दुकान में रखी तिजोरी की चाबी मांगी। विरोध करने पर बदमाशों ने दंपति के साथ मारपीट की। बदमाशों ने रागनी के पेट में लात मार दी। लात लगने के बाद वह गिर गई। बदमाश तिजोरी की चाबी लेकर करीब चार लाख के जेवरात और एक मोबाइल लूटकर ले गए। आरोप है कि बाहर निकलने के दौरान बदमाशों को लोगों ने घेरने का प्रयास किया तो बदमाशों ने दुकान के बाहर दो राउंड हवाई फायरिंग कर दी।

घटना के बाद पीड़ित राजनाथ गुप्ता दुकान से बाहर आए। उन्होंने आसपास के लोगों से मोबाइल लेकर कंट्रोल रूम को सूचना देने के लिए कॉल लगाया। लेकिन कॉल नहीं लगी। पीड़ित खुद डीएलएफ पुलिस चौकी पहुंचे और घटना की जानकारी दी। डीएलएफ पुलिस चौकी इंचार्ज रामनारायण सिंह ने बताया कि पीड़ित ने पुलिस से मामले की शिकायत की। पुलिस ने घटनास्थल का मुआयना किया। पुलिस बदमाशों की तलाश कर रही है। बदमाश लूटपाट कर दिल्ली की तरफ भागे थे। लोनी पुलिस दिल्ली पुलिस से भी बात कर रही है।

डीएलएफ में बदमाशों का आतंक बढ़ता जा रहा है। आसपास के लोगों का कहना है कि पुलिस इलाके में गश्त नहीं करती है। बीते आठ नवंबर को बदमाशों ने सी-1 में रहने वाली रिहाना की चेन लूट ली थी। 11 नवंबर को स्कूटी सवार दो बदमाशों ने सी-1 में रहने वाली गीता अहूजा से सोने की चेन झपटी थी। लोगों का कहना है कि इलाके में रहने वाले लोग अब अपने आप को सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे हैं।

लूट की जगह चोरी की तहरीर लिखवाई
पीड़ित राजनाथ गुप्ता ने बताया कि लूट के बाद वह डीएलएफ पुलिस चौकी पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि उन्होंने पुलिस को उनके साथ हुई लूट की जानकारी दी। जिसके बाद पुलिस ने उनसे अंगूठी चोरी की तहरीर लिखवाई है। एसपी देहात नीरज सिंह जादौन ने बताया कि पीड़ित ने पुलिस को चोरी की तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *