ताज़ा खबर :
prev next

जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर आमरण अनशन शुरू

गाज़ियाबाद। आज से आचार्य परमहंस ने जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर आमरण अनशन शुरू कर दिया है। यह अनशन अनिश्चितकालीन चलेगा। इस दौरान आचार्य ने ऐलान किया है कि यदि आमरण अनशन में मेरी मृत्यु हो जाये तो कठोर जनसंख्या नियंत्रण कानून बनने के बाद ही मेरे शरीर का अंतिम संस्कार किया जाए। यह अनशन शिवशक्ति धाम डासना में शुरू किया गया है।
पहले दिन आस-पास के सैकड़ों लोगों ने पहुंचकर अनशन को समर्थन दिया है। उन्होंने कहा कि उनके शरीर का अंतिम संस्कार तब तक न किया जाये,जब तक देश में चीन की तरह कठोर जनसंख्या नियंत्रण कानून नहीं बन जाता। उन्होंने कहा की जब देश के प्रधानमंत्री खुद लाल किले से जनसंख्या विस्फोट पर बोल चुके हैं, तब तो उन्हें जल्दी से जल्दी यह कानून बनाना ही चाहिये। उनके मुताबिक देश की हर समस्या की जड़ में सुरसा के मुंह की तरह बढ़ती हुई जनसंख्या ही है। इस पर रोक लगाए बिना विकास और प्रगति की बात करना ही व्यर्थ है।
अखिल भारतीय संत परिषद के राष्ट्रीय संयोजक यति नरसिंहानन्द सरस्वती ने अनशन पर बैठे आचार्य का शॉल ओढ़ाकर और फूल मालाओं से अभिनन्दन और स्वागत किया और उनके संघर्ष में अंतिम सांस तक रहने का संकल्प लिया। इस मौके पर यति रामस्वरूपानन्द सरस्वती, यति सेवानन्द सरस्वती, यति नित्यानन्द सरस्वती, स्वामी रुद्रानन्द सरस्वती, बृजमोहन सिंह, मदन मुखिया व अरविन्द यादव समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *