ताज़ा खबर :
prev next

हैदराबाद : आरोपी की मां ने कहा – उसे भी वैसे ही जला दो जैसे महिला डॉक्टर को जलाया

हैदराबाद। हैदराबाद रेप और मर्डर केस के आरोपियों में से एक आरोपी की मां ने कहा है कि अगर उनका बेटा गैंग रेप, कत्ल और 27 साल की पशु चिकित्सक को जलाने का दोषी है तो उसे भी जला दिया जाना चाहिए। रेप और मर्डर केस के आरोप में गिरफ्तार 4 आरोपियों में से एक आरोपी (चेन्नाकेशावुलू) की मां ने मीडिया से बात करते हए कहा, ‘अगर मेरे बेटे ने इस अपराध को अंजाम दिया है और उसे जलाया है तो मेरा बेटा मेरे लिए कुछ भी नहीं है। गलत तो गलत है।’

साथ ही आरोपी की मां ने यह भी कहा कि उसे यह विश्वास नहीं हो रहा कि उसके बेटे ने ऐसी हरकत की है। लेकिन अगर वह दोषी साबित होता है तो उसे अन्य आरोपियों की तरह वही सजा मिलनी चाहिए।आरोपी की मां का यह बयान उस घटना के एक दिन बाद आया जब उसके बेटे ने अपने साथियों के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया।

इससे पहले हैदराबाद के शमशाबाद में पशु चिकित्सक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म और जलाकर मार देने जैसी वीभत्स घटना के पांचवें दिन रविवार को युवती के घर के पास उस समय तनाव पैदा हो गया, जब स्थानीय निवासियों ने राजनेताओं, पुलिस और मीडिया को इलाके में प्रवेश करने से रोक दिया।

हैदराबाद के बाहरी इलाके शमशाबाद में जहां दरिंदगी की भेंट चढ़ी युवती का घर है, वहां रिहायशी इलाके के नक्षत्र विला के गेट पर एक बोर्ड टंगा हुआ था, जिस पर लिखा था, ‘कोई सहानुभूति नहीं, केवल कार्रवाई और न्याय।’ कुछ राजनीतिक दलों के नेताओं और कार्यकर्ताओं को लोगों के विरोध के कारण पीड़िता के परिवार से मिले बिना वापस जाना पड़ा। प्रदर्शनकारियों ने मांग की कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव पीड़ित परिवार के साथ न्याय करने के लिए तुरंत जवाब दें।

मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने दोषियों को कड़ी से कड़ी से सजा देने की बात कही है। सीएम ने मामले से निपटने के लिए एक फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने का भी फैसला किया है। उन्होंने कहा कि परिवार को राजनेताओं और अन्य लोगों से सहानुभूति की जरूरत नहीं है। राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किशन रेड्डी समेत कई लोग पीड़िता के घर सांत्वना देने के लिए मिल चुके हैं।

आरोपियों को फांसी देने की मांग

वीभत्स घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने पुलिस थाने के सामने विरोध प्रदर्शन करते हुए आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग की। इसी पुलिस थाने में चार आरोपियों को रखा गया है। हैदराबाद से 50 किलोमीटर दूर इस कस्बे के पुलिस थाने के सामने ‘हमें न्याय चाहिए’ का नारा लगाते हुए स्थानीय निवासियों ने धरना दिया, जिसमें महिलाएं और छात्र भी शामिल हुए थे। वे आरोपियों को बिना पूछताछ और बिना सुनवाई के जल्द से जल्द फांसी पर लटकाने की मांग कर रहे थे।

हालांकि कुछ प्रदर्शनकारियों का कहना था कि इन जैसे अपराधियों के लिए समाज में कोई जगह नहीं है, और इन्हें ‘एनकाउंटर’ में मार देना चाहिए। दूसरी ओर, पुलिस ने भी थाने के आसपास अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती के साथ सुरक्षा कड़ी कर दी है।

क्या है मामला

27 नवंबर की रात 27 वर्षीया पशु चिकित्सक महिला की शमशाबाद स्थित आउटर रिंग रोड (ओआरआर) के टोल प्लाजा पर दो ट्रक चालकों और दो क्लीनरों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म किए जाने के बाद हत्या करने की घटना  कर दी गई थी। आरोपियों ने बाद में शव को शादनगर शहर के बाहरी इलाके में जला दिया था। अगले दिन स्थानीय लोगों ने पीड़िता की अधजली लाश देख पुलिस को सूचना दी थी।

साइबराबाद पुलिस ने पिछले हफ्ते शुक्रवार रात 4 आरोपियों की गिरफ्तारी की घोषणा की थी, जिन्होंने टोल प्लाजा के पास पार्क की हुई पीड़िता की स्कूटी को पंक्चर कर घटना को अंजाम दिया था। आरोपियों की पहचान ट्रक चालक मोहम्मद आरिफ, ट्रक चालक चिंताकुंता चेन्नाकेशावुलू, क्लीनर जोलु शिवा और जोलु नवीन के तौर पर हुई। आरिफ की उम्र 26 साल है, जबकि बाकी तीनों आरोपियों की उम्र 20 साल है। इन सभी को तेलंगाना के नारायणपेट जिले से गिरफ्तार किया गया है।

 

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *