ताज़ा खबर :
prev next

गाज़ियाबाद का प्रदूषण फिर खतरनाक स्तर पर, एक्यूआइ 470 दर्ज

गाज़ियाबाद। शहर में लगातार बढ़ रहा प्रदूषण कम होने का नाम नहीं ले रहा। एक तरफ जहाँ शहर में छाए फॉग की वजह से सड़क दुर्घटना की आशंका बनी रहती है वहीं लोगों की सेहत पर भी इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है। गुरुवार को जनपद देश का सबसे प्रदूषित शहर रहा। यहाँ का एक्यूआइ 470 दर किया गया, जबकि ग्रेटर नोएडा का एक्यूआइ लेवल 421 दर्ज किया गया।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा निर्माण पर रोक हटाने के बाद निर्माण कार्य शुरू हो गए हैं। इसका असर यह है कि लगातार प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। बुधवार को शहर का एक्यूआइ 441 रहा। इससे सांस के रोगियों को परेशानी उठानी पड़ी। वहीं निर्माण कार्य शुरू होने से विभिन्न जगहों पर धूल उड़ रही है। जिसका सीधा असर प्रदूषण के स्तर पर पड़ रहा है।

शहर में प्रदूषण बढ़ने का एक बड़ा कारण यह भी है कि लोग कूड़ा जलाने से बाज नहीं आ रहे हैं। बुधवार को भी वसुंधरा सेक्टर 11 में कुछ लोगों ने कूड़े में आग लगा दी। इसके चलते आसपास के लोग धुएं से परेशान रहे। स्थानीय लोगों ने ही कूड़े पर पानी डालकर आग बुझाई। वहीं निर्माण कार्यों के आसपास भी धूल उड़ती दिखी। शालीमार गार्डन, राजेंद्र नगर आदि इलाके में लगातार बिल्डर निर्माण कार्य कर रहे हैं। नियमों को ताक पर रखकर अवैध फ्लैट तो बनाए ही जा रही हैं, साथ ही प्रदूषण भी फैलाया जा रहा है।

 

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *