ताज़ा खबर :
prev next

सुरक्षा एजेंसियों की चेतावनी – भारतीय मुसलमानों में नफरत फैलाने की साजिश कर रहा है तुर्की

खुफिया एजेंसियों ने गृह मंत्रालय को एक रिपोर्ट भेजी है जिसमें कहा गया है कि तुर्की के जेहादी इस्लामिक संगठन भारत में नफरत फैलाने की साजिश रच रहे हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि तुर्की के इस्लामिक संगठन भारत के मौलवियों और इस्लाम से जुड़े जानकारों को ये कहकर भड़का रहे हैं कि भारत में मुसलमान सुरक्षित नहीं हैं और उन्हें हिन्दुओं से खतरा है।

न्यूज़ चैनल ज़ी न्यूज के अनुसार पिछले कुछ महीनों में भारत से कई मौलवी और इस्लाम के जानकरों को तुर्की बुलाया गया है। उन्हें शरिया से जुड़े कई कोर्सज भी कराए जा रहे हैं। इन कोर्सज के दौरान उन्हें ये भी बताया जा रहा है कि भारत उनके लिए सुरक्षित नहीं है।

खुफिया एजेंसियों से मिली इस इनपुट को गंभीरता से लेते हुए सरकार ने तुर्की से जुड़े ऐसी सभी संगठनों पर कड़ी नजर रखने को कहा है जो भारत में नफरत फैलाने की साजिश रच रहे हैं।

आपको बता दें कि तुर्की लगातार भारत के खिलाफ अक्रामक रुख अपनाए हुए है। पिछले दिनों पाकिस्तान दौरे पर आए तुर्की के राष्ट्रपति ने भारत के ऐतराज के बावजूद कश्मीर का मुद्दा उठाया था और भारत के खिलाफ जहर उगलते हुए कहा कि उनका मुल्क इस मामले में पाकिस्तान की हिमायत करेगा जिस पर हिंदुस्तान ने सख्त ऐतराज का इजहार किया था। दो दिनों के दौरे पर पाकिस्तान गए एर्दोआन ने पाकिस्तान की पार्लियामेंट में कहा था कि तुर्की इस हफ्ते पेरिस में एफएटीएफ की ग्रे लिस्ट से बाहर होने की पाकिस्तान के कोशिशों का समर्थन करेगा। भारत ने तुर्की के राष्ट्रपति के बयान पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा था कि कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है और इस मामले में उसे किसी देश की दखलदांजी बर्दाश्त नहीं है।

देखा जाए तो तुर्की दियानेट फाउंडेशन जैसी संस्था आए दिन भारत और नेपाल जैसे देशों के मौलवियों और इस्लाम से जुड़े जानकारों को तुर्की आमंत्रित करती रहती है। तुर्की दियानेट फाउंडेशन तुर्की सरकार की डायरेक्टरेट ऑफ रिलीजियस अफेयर्स की एक विंग है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *