ताज़ा खबर :
prev next

IRCTC पोर्टल पर हो रही हैं 15 अप्रैल से रेल की टिकटें, अब तक हुईं 2 लाख एडवांस बुकिंग

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने 14 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा की है। इस समय देश भर में ट्रेनों से लेकर हवाई उडा़न तक में रोक लगी है। लेकिन अभी भी बहुत से ऐसे लोग है जो अभी भी परिवार से दूर कहीं फंसे हैं। कोई अपने रिश्तेदार के यहां है तो कोई गांव में। ऐसे में अब लोगों को लॉकडाउन खुलने का इंतजार है। लोग ट्रेन और प्लेन चलने का इंतजार कर रहे हैँ। लोग IRCTC की साइट पर यह सर्च कर रहे हैँ कि कब से ट्रेनों में बुकिंग कराई जा सकती है।

रेलवे के आंकड़ों के मुताबिक 15 अप्रैल को अभी तक रेल टिकट की बुकिंग 20 फीसदी से ऊपर नहीं हो रही है। 15 अप्रैल की ई-टिकट की बुकिंग लगभग दो लाख हुई है।। भारत सहित विश्व में कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए यात्री ट्रेन के रद्द रखने की अवधि बढ़ाए जाने की पूरी संभावना है।

क्या कहते हैँ रेलवे के आंकड़ें

21 व 22 अप्रैल को एक लाख 10 हजार के बीच ही टिकट की बुकिंग हुई है। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि 31 मार्च तक जनता कर्फ्यू की घोषणा होने पर लोगों ने टिकट बुकिंग की, लेकिन बाद में 21 दिन का लॉकडाउन होने के बाद 80 फीसदी लोगों ने टिकट रद्द कराने शुरू कर दिए। रेलवे ने उन लोगों को राहत जरूर दी है जिनके टिक्ट लॉकडाउन के तारीख के हैं। इन लोगों को टिकट कैंसिल कराने की जरूरत नहीं है। रेलवे इन टिकट को खुद रद करके इनका पैसा लोगों के खाते में भेजेगा।

2,000 करोड़ रुपये का घाटा

पहले प्रतिदिन ऑनलाइन और काउंटर से औतसन 16 लाख ट्रेन टिकट की बुकिंग होती थी। लेकिन यह संख्या अब घटकर दो लाख से कम हो गई है। इससे रेलवे को लगभग दो हजार करोड़ रुपये से अधिक का घाटा हुआ है। देशव्यापी लॉकडाउन के तहत 13,524 यात्री ट्रेन को 14 अप्रैल तक बंद किया गया है।


बंद नहीं है IRCC की वैबसाइट

(आईआरसीटीसी) से ई-टिकट बुक कराने को लेकर आम लोगों में भ्रम है। जनता को लगता है कि देशभर में 13,524 ट्रेन ठप होने से वेबसाइट को भी बंद कर दिया गया है। हकीकत यह है कि 22 मार्च से 21 दिन का लॉकडाउन की घोषणा होने के बाद सभी यात्री ट्रेन बंद कर दी गईं, लेकिन आईआरसीटीसी की वेबसाइट को कभी बंद नहीं किया गया।

क्या कहते हैं नियम
आरक्षित टिकट की बुकिंग 120 दिन (चार माह) पहले बुक कराने का प्रावधान है। जबकि लॉकडाउन सिर्फ 21 दिनों का हुआ है। यानी 22 जून का टिकट यात्री 22 मार्च को एडवांस बुक करा सकता है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है और 15 अप्रैल से ट्रेन के चलने की संभावना है। इसलिए यात्री 15 अप्रैल का टिकट एडवांस में बुक करा रहे हैं, यदि लॉकडाउन की अवधि बढ़ती है तो एडवांस बुक किए गए टिकट स्वत: रद्द कर दिए जाएंगे। ऐसी स्थिति में आईआरसीटीसी रेल किराए का पैसा यात्री के बैंक खाते में सीधे भेज देगा। इसके लिए यात्री को टिकट रद्द कराने की प्रक्रिया नहीं करनी होगी।


हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *