ताज़ा खबर :
prev next

नोएडा के स्पा सेंटर में काम करने वाली महिला की हत्या, नहर में मिला शव

हमारा गाजियाबाद ब्यूरो। स्पा सेंटर में काम करने वाली महिला की हत्या कर शव नहर में फेंकने का मामला सामने आया है। आरोपी ने छुरे से महिला की हत्या करने के बाद शव को वैशाली में हिंडन नहर में फेंक दिया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। महिला तीन दिन से लापता था।

रविवार देर रात पुलिस ने वैशाली सेक्टर 4-5 की पुलिया के पास से शव को बरामद किया था। पुलिस ने परिजनों की शिकायत के आधार पर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। महिला की पहचान सोमवार सुबह माधुरी उर्फ पलक (36) निवासी मकनपुर के रूप में पहचान हुई है। वही महिला के पति सुरेंद्र की मृत्यु 5 साल पहले हो चुकी है। महिला के दो बेटे अजय(13), विजय(6) और बेटी मधु(10) है। इस दौरान पुलिस ने आरोपी मुस्तफा निवासी ज्ञानखंड को शुक्र बाजार मस्जिद के पास से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी मुस्तफा की निशानदेही पर वैशाली सेक्टर 4-5 की पुलिया के नीचे शव के पास से महिला का मोबाइल और हत्या में प्रयोग की गई छुरी भी को बरामद किया है।
महिला ग्रेटर नोएडा स्थित स्पॉ सेंटर में काम करती थी। 6 अगस्त को ऑटो से वह काम करने के लिए ग्रेटर नोएडा स्थित स्पॉ सेंटर पर गई। माधुरी के भाई राहुल ने बताया कि माधुरी रात आठ बजे स्पॉ में काम करने वाली जोया सहित अपने अन्य सहेलियों के साथ ऑटो से घर जाने के लिए निकली थी। इसके बावजूद वह रात में घर नही पहुंची। दो दिनों तक नोएडा सहित आसपास के रिश्तेदारों से पूछताछ करने के बावजूद माधुरी(36) का पता नहीं चला। इस दौरान इंदिरापुरम थाने में मामले की शिकायत कर रिपोर्ट दर्ज कराई । कॉल रिकार्ड और परिजनों से जानकारी के आधार पर पुलिस ने आरोपी मुस्तफा को पूछताछ के लिए उठाया। पूछताछ में आरोपी ने बताया का महिला उससे परिचय था। पुलिस से आरोपी ने बताया कि महिला अपने बच्चों के पालन पोषण के लिए अक्सर उससे पैसों की मांग करती थी। इस दौरान कुछ दिनों पहले उसने दस हजार रुपये महिला को दिए थे। फिर पैसे की मांग करने पर दोनों के बीच फोन पर कई बार झगड़ा हुआ था। इस दौरान आरोपी ने बताया कि 6 अगस्त को महिला जब ग्रेटर नोएडा से घर जा रही थी। महिला को अपने पास बुलाकर छुरी से गला रेत कर हत्या कर दी। उसके बाद टैम्पों से महिला के शव को वैशाली सेक्टर 4-5 की पुलिया के पास फेंक दिया। ज्ञानखंड-1 का रहने वाला हत्यारा मीट बेचने का काम करता है। पुलिस ने बताया कि मीट की बिक्री के दौरान दोनों के बीच परिचय हुआ था। आरोपी ने मीट काटने वाले हथियार से ही महिला की हत्या की थी।

अंशु जैन, सीओ इंदिरापुरम हत्यारोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। परिजनों ने शव की शिनाख्त कर ली है। आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *