ताज़ा खबर :
prev next

रोजगार मेलों के माध्यम से 2663 बेरोजगार युवक/युवतियों को मिला रोजगार – जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय।

  • भारत सरकार एवं उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा शिक्षित बेरोजगार युवकों की बेरोजगारी की समस्या दूर करने और हुनरमंद व कर्मठ युवाओं को अपने पैरों पर खड़ा करकर उनको आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से विभिन्न प्रकार की योजनायें संचालित की जा रही है। इसी क्रम में जिला सेवायोजन कार्यालय के माध्यम से समय समय पर रोजगार मेलों का वृहद स्तर पर आयोजन कराया जाता है, जिसमें हाईस्कूल, इण्टरमीडिएट, आई0टी0आई0, स्नातक पास बेरोजगार युवक/युवतियों को रोजगार के अवसर प्रदान किये जाते है।

गाज़ियाबाद। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के कुशल नेतृत्व में जनपद ग़ाज़ियाबाद में जिला सेवायोजन कार्यालय के माध्यम से विगत वित्तीय वर्ष में 16 रोजगार मेलों का आयोजन किया गया। जिसमें लगभग 5820 युवक/युवतियों के द्वारा भाग लिया गया और पात्रता के आधार पर कम्पनी के प्रतिनिधियों के द्वारा 2372 युवक/युवतियों का चयन करते हुये, उनको रोजगार उपलब्ध कराया गया। इसी प्रकार चालू वित्तीय वर्ष में कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुये अब तक 06 रोजगार मेंलो का आयोजन किया गया है, जिसमें लगभग 5156 युवक/युवतियों के द्वारा भाग लिया गया और कम्पनी प्रतिनिधियों के द्वारा पात्रता के आधार पर लगभग 291 युवक/युवतियों का चयन करते हुये, उन्हें रोजगार उपलब्ध कराया गया। सहायक जिला रोजगार सहायता अधिकारी ग़ाज़ियाबाद संतोष कुमार सिंह ने बताया कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के संक्रमण को ध्यान में रखते हुये निर्धारित रोजगार मेलों का आनलाइन माध्यम से कुशल आयोजन कराने की कार्यवाही विभागीय स्तर पर करायी जा रही है, जिसके अनुसार रोजगार मेले में भाग लेने के इच्छुक अभ्यर्थी को अपना आवेदन सेवायोेजन के पोर्टल www.sewayojan.up.nic.in पर अपना आवेदन करते हुये, आनलाइन माध्यम से रोजगार मेले में भाग लें सकतें है।

उन्होंने बताया कि सेवायोजन कार्यालय के माध्यम से आयोजित रोजगार मेले में प्रा0लि0 कम्पनियों के प्रतिनिधियों के द्वारा ऐसे बरोजगार युवक/युवतियाॅ जिनकी आयु 18 वर्ष हो एवं जिनकी शैक्षिक योग्यता हाईस्कूल, इण्टरमीडिएट, स्नातक, आई0टी0आई0 आदि शैक्षिक योग्यता रखने वाले बेरोजगार युवक/युवतियाॅ जिन्होंने सेवायोजन के विभागीय पोर्टल पर रिक्तयों के अनुसार अपना आवेदन किया हुआ होता है, उनका चयन करके उनको रोजगार के अवसर प्रदान किये जाते है, ताकि बेरोजगार युवक/युवतियों रोजगार उपलब्ध कराते हुये उनको आत्मनिर्भर बनाया जा सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *