ताज़ा खबर :
prev next

नोएडा हनीट्रैप मामले में एक और आरोपी गिरफ्तार – सुनीता गुर्जर को जेल भेजा गया

रक्षा वैज्ञानिक को हनीट्रैप में फंसा कर उसका अपहरण कर 10 लाख रुपये की फिरौती मांगने के मामले में पुलिस ने मंगलवार की रात एक और आरोपी को गिरफ्तार किया। मामले में अब तक चार लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। अपर पुलिस उपायुक्त रणविजय सिंह ने बताया कि मामले में आरोपी सौरभ को सेक्टर 49 स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया गया है। उसके पास से घटना में प्रयुक्त आई- टेन कार भी बरामद हुई है, जो वैज्ञानिक अजय प्रताप के अपहरण में प्रयोग हुई थी। दूसरी ओर मुख्य आरोपी सुनीता गुर्जर को मंगलवार को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। अदालत ने उसे दोनों युवकों के साथ 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

उन्होंने बताया कि इस मामले में इससे पूर्व सुनीता गुर्जर, राकेश सहित तीन लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। सेक्टर-77 में रहने वाले रक्षा वैज्ञानिक को हनीट्रैप में फंसा कर पांच लोगों ने उनका अपहरण कर लिया था, तथा उनकी पत्नी से 10 लाख रुपए की फिरौती की मांग की थी। रविवार देर रात कार्रवाई करते हुए पुलिस ने वैज्ञानिक को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ाया तथा तीन लोगों की गिरफ्तारी की थी।

आपको बता दें कि नोएडा में रहने वाले डीआरडीओ के एक साइंटिस्ट को नोएडा शहर के आगाहपुर गांव में रहने वाली महिला सुनीता गुर्जर ने हनीट्रैप में फंसाकर अपरहण करवा लिया था। शहर के एक होटल में साइंटिस्ट को रखकर उसके परिवार वालों से 10 लाख रुपये की फिरौती मांगी गई थी। इस मामले में डीआरडीओ की ओर से नोएडा पुलिस को सूचना दी गई थी। जिसके बाद नोएडा पुलिस ने बेहद तत्परता के साथ इस पूरे मामले में बड़ा खुलासा किया। पुलिस ने सोमवार को जानकारी दी थी कि डीआरडीओ के साइंटिस्ट ने इंटरनेट पर मसाज करवाने के लिए नंबरों की तलाश की थी। वहां से साइंटिस्ट को एक नंबर मिला। उस नंबर पर कार्यरत व्हाट्सएप के जरिए चैटिंग हुई। साइंटिस्ट को कुछ लड़कियों के फोटोग्राफ्स भेजे गए। उनसे मसाज के लिए लड़की पसंद करने को कहा गया।

पुलिस के मुताबिक जब वैज्ञानिक की ओर से जवाब दे दिया गया तो उसे एक पता भेजा गया। जिस पर पहुंचने से पहले ही वैज्ञानिक का अपहरण कर लिया गया। इसके बाद डीआरडीओ के साइंटिस्ट को एक होटल में ले जाया गया। वहां बंधक बना लिया गया। अपहरण करने वाली महिला सुनीता गुर्जर ने वैज्ञानिक के परिजनों को फोन करके 10 लाख रुपये की फिरौती मांगी। इस पूरे मामले का सनसनीखेज खुलासा होने के बाद अब मिलिट्री इंटेलिजेंस सक्रिय हुई है। इसी सिलसिले में मंगलवार की सुबह मिलिट्री इंटेलिजेंस नोएडा पहुंची। आरोपी महिला उसके दोनों साथियों और पीड़ित वैज्ञानिक से पूछताछ की गई है।.

आपको बता दें कि मंगलवार की सुबह है मिलिट्री इंटेलिजेंस के अधिकारी नोएडा पहुंचे। नोएडा पुलिस के अधिकारियों से मुलाकात की। इसके बाद हनी ट्रैप मामले की मुख्य आरोपी सुनीता गुर्जर और उसके दो साथियों से मिलिट्री इंटेलिजेंस के अधिकारियों ने लंबी पूछताछ की है। जानकारी मिली है कि टीम ने रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) के पीड़ित वैज्ञानिक से भी पूछताछ की है। दरअसल, मिलिट्री इंटेलिजेंस जानने की कोशिश कर रही है कि डीआरडीओ के साइंटिस्ट ने कोई संवेदनशील जानकारी तो इन महिलाओं के साथ साझा नहीं की है।

नोएडा के अपर पुलिस उपायुक्त रणविजय सिंह ने बताया कि मिलिट्री इंटेलिजेंस के अधिकारियों की एक टीम मंगलवार की सुबह आई थी। उन लोगों ने अपने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) के मुताबिक हनी ट्रैप मामले में गिरफ्तार की गई महिला और उसके दोनों साथियों से पूछताछ की है। इंटेलिजेंस ने गोपनीयता के साथ बातचीत की। जिसका हम लोगों से कोई सरोकार नहीं होता है। बातचीत करने के बाद टीम चली गई। इस बारे में बाकी हम लोगों को कोई जानकारी उपलब्ध नहीं करवाई गई है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *