ताज़ा खबर :
prev next

दिल्ली से गाजियाबाद आ रहे हैं तो जरूर पढ़ें, 2 दिन रहेगा रूट डायवर्जन – ये हैं वैकल्पिक रास्ते

यातायात पुलिस अधीक्षक रामानंद कुशवाहा ने बताया है कि वायुसेना के आयोजन की संवेदनशीलता और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए डायवर्जन लागू किया जाएगा। लोग घर से रूट देखकर ही निकलें। दोनों दिन डायवर्जन सुबह छह बजे से आयोजन पूरा होने तक लागू रहेगा।

गाजियाबाद। वायुसेना स्थल हिंडन में बृहस्पतिवार को भारतीय वायुसेना दिवस की 88वीं वर्षगांठ मनाई जाएगी। इसके पहले मंगलवार को फुल ड्रेस रिहर्सल होगा। इस कारण मंगलवार और बृहस्पतिवार को रूट डायवर्जन रहेगा। यातायात पुलिस अधीक्षक रामानंद कुशवाहा ने बताया है कि वायुसेना के आयोजन की संवेदनशीलता और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए डायवर्जन लागू किया जाएगा। लोग घर से रूट देखकर ही निकलें। दोनों दिन डायवर्जन सुबह छह बजे से आयोजन पूरा होने तक लागू रहेगा।

इस तरह रहेगा डायवर्जन-

  • दोनों दिन एलिवेटेड रोड पर आमजन नहीं जा पाएंगे। आयोजन के अतिथि ही यूपी गेट से एलिवेटेड रोड होते हुए वायुसेना स्थल हिंडन जाएंगे।
  • राजनगर एक्सटेंशन से नागद्वार की ओर जाने वाले वाहन हिंडन रिवर मेट्रो स्टेशन की ओर से जाएंगे।
  • एएलटी चौराहे से बड़े वाहन राजनगर एक्सटेंशन नहीं जाएंगे। इन्हें मेरठ तिराहा से भेजा जाएगा।
  • हिंडन रिवर मेट्रो स्टेशन से कोई वाहन राजनगर एक्सटेंशन रोटरी गोल चक्कर की ओर नहीं जाएगा।
  • टीला मोड़ थाने से भोपुरा की तरफ कोई भी बड़ा वाहन नहीं जाएगा।
  • तुलसी निकेतन से वायुसेना स्थल हिंडन की ओर जाने वाले वाहनों को करनगेट गोलचक्कर व बीकानेर चौराहा से मोहननगर की ओर भेजा जाएगा।
  • लाजपत नगर कट से भी सभी वाहन करनगेट गोलचक्कर होते हुए जाएंगे।
  • मोहननगर व करहैड़ा तिराहे से भी किसी वाहन को वायुसेना स्थल हिंडन की ओर नहीं जाने दिया जाएगा।
  • छह व आठ अक्टूबर को एलिवेटेड रोड आमजन के लिए बंद रहेगी।

यहां पर बता दें कि आगामी 8 अक्टूबर को एयरफोर्स डे से पूर्व मंगलवार को हिंडन एयरफोर्स स्टेशन पर समारोह की फुल ड्रेस रिहर्सल की जा रही है। इस दौरान जमीन से आसमान तक भारतीय वायुसेना अपना पराक्रम दिखाएगी। हाल ही में वायुसेना में शामिल हुए राफेल और भारतीय तकनीक से विकसित तेजस लड़ाकू विमान रिहर्सल के दौरान आकाश में दहाड़ते दिखाई देंगे। सुखोई, मिराज, हरक्युलिस और ग्लोबमास्टर भी वायुसेना की असीम ताकत का अहसास कराएंगे। कोरोना महामारी के चलते इस बार दर्शक वायुसेना दिवस फुल ड्रेस रिहर्सल और वायुसेना दिवस समारोह नहीं देख सकेंगे। आठ अक्टूबर 1932 को वायुसेना की स्थापना की गई थी। साल 2006 से पहले दिल्ली के पालम एयरफोर्स स्टेशन पर वायुसेना दिवस का केंद्रीय समारोह होता था। 2006 से हिंडन एयरफोर्स स्टेशन में यह समारोह होता आ रहा है।साभार – दैनिक जागरण

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *