ताज़ा खबर :
prev next

पेप्सिको उत्तर प्रदेश में चिप्स उत्पादन इकाई में करेगी रु 814 करोड़ का निवेश

  • बहुराष्ट्रीय कम्पनी पेप्सिको कोसी-मथुरा में स्थापित करेगी ग्रीनफील्ड चिप्स उत्पादन इकाई
  • 1500 प्रत्यक्ष एवं परोक्ष रोज़गार का होगा सृजन
  • वर्ष 2021 के मध्य में वाणिज्यिक उत्पादन प्रारम्भ होने की सम्भावना

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कोविड-19 महामारी आपदा को अवसर में बदलने की रणनीति के सकारात्मक परिणाम मिलने प्रारम्भ हो गए हैं। बहुराष्ट्रीय फूड एवं बेवरेज कम्पनी पेप्सिको उत्तर प्रदेश में 814 करोड़ रुपये के निवेश से एक नवीन (ग्रीनफील्ड) आलू चिप्स उत्पादन इकाई स्थापित करेगी।
यह इकाई कोसी-मथुरा में उ. प्र. राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीसीडा) द्वारा उपलब्ध कराई गई लगभग 35 एकड़ भूमि पर स्थापित की जाएगी। स्थापना के पश्चात् इस चिप्स उत्पादन इकाई में 1,500 लोगो को प्रत्यक्ष व परोक्ष रोज़गार मिलेगा। आगामी वर्ष 2021 के मध्य तक इस इकाई में वाणिज्यिक उत्पादन प्रारम्भ होने की सम्भावना है।

इस सन्दर्भ में पेप्सिको इण्डिया के अध्यक्ष, श्री अहमद अल शेख ने एक राष्ट्रीय समाचार एजेंसी को बताया कि पहले इस परियोजना में 500 करोड़ रुपये का निवेश प्रस्तावित था, जिसको बढ़ाकर अब 814 करोड़ रुपये कर दिया गया है तथा कच्चा माल (आलू) स्थानीय स्रोतों से खरीदा जाएगा।
मंत्री, औद्योगिक विकास, श्री सतीश महाना ने कहा- “मा. मुख्यमंत्री जी के दूरदर्शी व स्पष्ट नीतिगत् दिशा-निर्देशन में राज्य सरकार द्वारा ईज़ ऑफ़ डूइंग बिज़नेस के सुधारों को त्वरित गति से लागू करने के परिणामस्वरूप निवेशकों में उत्तर प्रदेश के प्रति विश्वास स्थापित हुआ है और पेप्सिको सहित अनेक कम्पनियां सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ राज्य में निवेश कर रही हैं।“

अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त, श्री आलोक टण्डन ने बताया कि मा. मंत्रिपरिषद् द्वारा इस वर्ष जनवरी में पप्सिको के निवेश प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान कर दी गई थी तथा राज्य सरकार के सहयोग की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुए राज्य की औद्योगिक निवेश एवं रोज़गार प्रोत्साहन नीति के अन्तर्गत लेटर ऑफ़ कम्फर्ट जारी कर दिया गया था। इस परियोजना की स्थापना से न केवल राज्य में खाद्य-प्रसंस्करण उद्योग को बढ़ावा मिलेगा, बल्कि क्षेत्रीय किसानों को भी लाभ होगा।

अपर मुख्य सचिव, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास विभाग, श्री आलोक कुमार ने बताया कि पेप्सिको द्वारा यूपी इन्वेस्टर्स समिट-2018 में 500 करोड़ रुपये के प्रस्तावित निवेश वाली इस परियोजना की स्थापना हेतु एमओयू किया गया था तथा जुलाई 2019 में आयोजित ग्राउण्ड ब्रेकिंग समारोह में भूमि की व्यवस्था के साथ परियोजना का शुभारम्भ हो गया था।

उन्होंने कहा कि एमओयू ट्रैकिंग, भूमि आवंटन एवं श्रम से सम्बंधित सुधारों के फलस्वरूप प्रदेश में उद्योगों के अनुकूल एक पारदर्शी निवेश व्यवस्था स्थापित हो रही हैं, इसी का परिणाम है कि पेप्सिको द्वारा अपने निवेश में वृद्धि की गई है।

ज्ञात हो कि पेप्सिको द्वारा उत्तर प्रदेश में 1990 से अब तक 30 वर्षों में फ्रैंचाइजी़ के माध्यम से राज्य में अनेक स्थानों पर कार्बोनेटेड साॅफ्ट ड्रिंक्स एवं नाॅन-कार्बोनेटेड बेवरेज का उत्पादन किया जा रहा है। उक्त इकाइयां ग्रेटर नोएडा, कोसी, सथरिया-जौनपुर, कानपुर देहात-जैनपुर तथा हरदोई आदि में कार्यरत् हैं। ऐसा पहली बार है कि पप्सिको द्वारा उत्तर प्रदेश में स्वयं एक ग्रीनफील्ड परियोजना की स्थापना की जा रही है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *