ताज़ा खबर :
prev next

कबाड़ियों को लूटकर करोड़पति बने कई पुलिसवाले, वायरल हुए थे मौज-मस्ती के फोटो, अब खुलेंगे राज

मेरठ में लंबे समय से सोतीगंज में चोरी-लूट के वाहन कटते हैं, ये सब जानते हैं। हाजी गल्ला, मन्नू, राहुल काला, गद्दू, इकबाल, जावेद सहित 52 कबाड़ी अब करोड़पति है। हैरानी की बात तो यह है कि उक्त कबाड़ियों से दोस्ती कर उन्हें ही लूटकर कई पुलिसवाले भी करोड़पति बन गए।

सोतीगंज पर शिकंजा कसने के लिए सदर पुलिस चोरी और लूट के वाहन काटने वाले कबाड़ियों की कुंडली खंगाल रही है। सांसद राजेंद्र अग्रवाल की चिट्ठी के बाद पुलिस प्रशासन में खलबली मची है। लेकिन इस बार भी कार्रवाई होगी या नहीं, यह बड़ा सवाल है। सब जानते हैं कि सोतीगंज में चोरी और लूट के वाहन काटकर कबाड़ी करोड़पति बन गए। कई कबाड़ी ने तो इस धंधे को छोड़कर दूसरा बिजनेस भी खड़ा कर लिया।

पुलिस का दावा है कि सोतीगंज में कई शातिर कबाड़ी छूट भैया के कंधे पर तीर चला कर अपना धंधा कर रहे हैं। सोतीगंज में शायद ही ऐसा कोई कबाड़ी हो, जिसकी दोस्ती पुलिस से न हो। पुलिस वालों ने भी सोतीगंज के कबाड़ियों को खूब लूटा और वे भी करोड़पति बन गए। ये पुलिस वाले इन कबाड़ियों के पैसों से विदेश तक घूमने जाते हैं।

कबाड़ी के पैसे से पहनते ब्रांडेड सूट- 
आबूलेन, बांबे बाजार में शायद ही ऐसी कोई दुकान हो, जिस पर कबाड़ियों का उधार न चलता हो। इन दुकानों पर दागी पुलिस वाले जाते हैं और कबाड़ी के नाम से ब्रांडेड सूट बूट लेकर चले जाते हैं। यही वजह कि सदर थाने में एक बार पोस्टिंग होने के बाद सभी ब्रांडेड सूट बूट पहनना सीख जाते हैं। थाने से हटने के बाद भी दोस्ती बरकरार रहती है।

अकूत संपत्ति का कैसे खुलेगा राज-
चोरी और लूट की गाड़ियां काटने वालों के पास अकूत संपत्ति है। सोतीगंज के अलावा दूसरी जगह पर उनकी आलीशान कोठी भी है। पुलिस प्रशासन के आला अधिकारियों को भी इसकी जानकारी है। इन कबाड़ियों पर कार्रवाई हो तो कैसे। जबकि इन कबाड़ियों पर 20-20 से ज्यादा मुकदमा दर्ज हैं।

काटने वाले अलग-अलग कबाड़ी-
सोतीगंज के कबाड़ियों में गजब का तालमेल है। चोरी-लूट की गाड़ी और बाइक काटने वाले कबाड़ी अलग-अलग हैं। राहुल काला व मन्नू कबाड़ी सिर्फ बाइक काटते हैं। जबकि हाजी गल्ला, गददू, मोहसिन, इकबाल, जावेद समेत अन्य कबाड़ियों का काम गाड़ी काटने का है। जो कबाड़ी बाइक काटता है वह चोरी व लूट की गाड़ी नहीं खरीदता। वह अपने करीबी कबाड़ी को चोरी की गाड़ी खरीदवा देता है।

सोतीगंज पर शिकंजा कसने के लिए सदर पुलिस के अलावा अलग से टीम भी बनाई जाएगी। चोरी और लूट के वाहन काटकर कमाई गई संपत्ति भी जब्त होगी। सोतीगंज के शातिर कबाड़ियों की कुंडली खंगाली जा रही है। – राजीव सभरवाल, एडीजी मेरठ जोन, साभार-अमर उजाला

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *