ताज़ा खबर :
prev next

गाजियाबाद,नौकरी का झांसा देकर युवती को वेश्यावृत्ति में धकेला, पांच गिरफ्तार

गाजियाबाद। सरकारी नौकरी लगवाने का झांसा देकर पीलीभीत की युवती को बंधक बनाकर देह व्यापार के दलदल में धकेलने का मामला सामने आया है। बुधवार को पीड़िता की तहरीर पर केस दर्ज कर पुलिस ने मुख्य आरोपी लकी पंजाबी उर्फ आमीन और दो महिलाओं समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। सभी आरोपी राजनगर एक्सटेंशन की रेजीडेंसी सोसायटी में रह रहे थे।

पीड़िता के मुताबिक दिल्ली निवासी आमीन गिरोह का सरगना है, जो एस्कॉर्ट सर्विस के नाम पर देह व्यापार का रैकेट चलाता था। वह असली नाम छिपाकर खुद को लकी पंजाबी बताकर लड़कियों को फंसाता था। गैंग के सदस्य चंगुल में फंसने वाली महिलाओं पर मांस खाने का दबाव भी डालते थे। पीड़िता के मुताबिक वह लोनी से भाजपा विधायक नंदकिशोर गुर्जर और एनजीओ की मदद से उक्त गैंग के चंगुल से छूट सकी।

सीओ सेकेंड अवनीश कुमार ने बताया कि पीड़ित युवती मंगलवार देर रात सिहानी गेट पुलिस के पास पहुंची। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह करीब ढाई साल पहले गैंग के सरगना लकी पंजाबी के संपर्क में आई। उसने उसे नौकरी लगवाने का झांसा देकर चंगुल में फंसाया था। आरोप है कि एस्कॉर्ट सर्विस के नाम पर देह व्यापार का रैकेट चलाने वाले लकी पंजाबी ने उसे बंधक बनाकर रखा और उससे नोएडा, गाजियाबाद व दिल्ली में देह व्यापार कराया।

इस दौरान लकी पंजाबी उर्फ आमीन ने खुद भी उसका यौन शोषण किया। पीड़िता द्वारा आपबीती बताने पर पुलिस की तीन टीमों ने राजनगर एक्सटेंशन की रेजीडेंसी सोसायटी में दबिश देकर मुख्य आरोपी लकी, निशांत, मोहित व दो महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया। सीओ का कहना है कि गिरोह में शामिल एक आरोपी अभी फरार है, जिसकी तलाश में दबिश दी जा रही है।

आप नेता बता दिल्ली में नौकरी लगवाने की कही थी बात
पीड़िता का आरोप है कि लकी पंजाबी खुद को आम आदमी पार्टी का नेता बताता है। आप नेता बताकर ही उसने दिल्ली में सरकारी नौकरी लगवाने का झांसा दिया था। लकी ने उसे दिल्ली स्थित अपने दफ्तर में बुलाया और वहां कुछ दिनों तक नौकरी करने की बात कही। आरोप है कि लकी ने शादी का झांसा देकर उसका यौन शोषण किया। आरोपी ने उसे राजनगर एक्सटेंशन की सोसायटी में रखा। जहां पहले से कुछ लड़कियां मौजूद थीं। आरोप है कि लकी सभी लड़कियों से देह व्यापार कराता था।

एस्कॉर्ट सर्विस के तहत होटलों में कराता था अनैतिक कार्य
पीड़िता का कहना है कि लकी का गैंग विभिन्न होटलों में एस्कॉर्ट सर्विस की आड़ में देह व्यापार का धंधा करता है। नौकरी की तलाश में दिल्ली-एनसीआर में आने वाली महिलाओं को गैंग अपना निशाना बनाता था। मोटी कमाई का लालच देकर पहले एस्कॉर्ट सर्विस से जोड़ा जाता और बाद में लड़कियों को देह व्यापार के लिए मजबूर किया जाता था। पुलिस पूछताछ में पीड़िता ने यह भी बताया कि आरोपी मांस खाने और धर्म बदलने का दबाव भी डालता था।

एनजीओ और विधायक से हस्तक्षेप से छूटी
पीड़िता का कहना है कि वह पूर्व से ही महिलाओं के लिए कार्यरत एक एनजीओ की महिला के संपर्क में थी। पीड़िता को जब लकी गैंग के कारनामों की जानकारी हुई तो उसने एनजीओ की महिला से संपर्क साधा। इसके बाद एनजीओ की टीम ने लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर से मदद मांगी। विधायक के हस्तक्षेप के बाद पीड़िता को आरोपियों के कब्जे से छुड़ाया गया। सीओ सेकेंड का कहना है कि अभी जांच-पड़ताल जारी है। अन्य लोगों के भी गिरोह से जुड़े होने की आशंका है। जो भी इस गोरखधंधे या गिरोह में शामिल होंगे, उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।साभार-अमर उजाला

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *