ताज़ा खबर :
prev next

यूपी के कानपुर में दबिश के दौरान पूर्व बीडीसी की हत्या, दरोगा गिरफ्तार

कानपुर के घाटमपुर में पुलिस की दबिश के दौरान पूर्व बीडीसी सदस्य की गोली मारकर हत्या कर दी गई। प्रारंभिक जांच और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद आरोपित घाटमपुर कोतवाली के दरोगा को गिरफ्तार किया गया है। उसकी सरकारी पिस्टल फोरेंसिक टीम ने कब्जे में ले ली है। उसके हमराही सिपाही को लाइन हाजिर किया गया है। तहरीर के आधार पर गांव के चार लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर दो को गिरफ्तार कर लिया। डीआईजी ने दरोगा को निलंबित कर दिया है।

कस्बे के भदरस गांव निवासी पूर्व बीडीसी मेंबर पप्पू बाजपेई (45) शुक्रवार देर रात गांव के बाहर माइनर के पास मुन्नी सोनकर के खेत में एक दर्जन लोगों के साथ जुआ खेल रहा था। बताया जा रहा है कि वह नशे की हालत में था। इसी दौरान सादे कपड़े में दो लोग उसके पास पहुंचे। एक ने हाथ में पिस्टल ले रखी थी। इतने में ही पुलिस-पुलिस चिल्लाते हुए जुआ खेल रहे लोग भागने लगे। बताया जा रहा है कि पप्पू पिस्टल लिए युवक से भिड़ गया।

आरोप है कि इसी युवक ने पप्पू के सीने में गोली मार दी। यह घटना मौके पर मौजूद छोटका कोरी ने देखी। पप्पू गिर गया तो दोनों आरोपित युवक भाग निकले। जुआ खेलने वाले भी घर चले गए और किसी को जानकारी नहीं दी। शनिवार सुबह ग्रामीण निकले तो खेत में पप्पू का शव पड़ा देखा। मौके पर पहुंची पुलिस ने 0.38 बोर का खोखा बरामद किया। ऐसे कारतूस पुलिस ही इस्तेमाल करती है। पूछताछ में छोटका ने घटना के बारे में जानकारी दी। मौके पर पहुंचे पूर्व विधायक मुनींद्र शुक्ला ने पुलिस पर गोली मारने का आरोप लगाया। डीआईजी और एसपी ग्रामीण भी आ गए।

पुलिस की प्रारंभिक जांच में पता चला कि हल्का चौकी प्रभारी दरोगा प्रेमवीर सिंह यादव और सिपाही दीपांशु शुक्रवार रात भदरस गांव गए थे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला कि एक गोली पप्पू के सीने में लगी थी और फेफड़े को चीरती हुई पार कर गई। परिस्थितिजन्य साक्ष्य दरोगा की ओर इशारा कर रहे थे। लिहाजा देर शाम पुलिस ने प्रेमवीर को गिरफ्तार कर लिया। घटना की सूचना नहीं देने पर दीपांशु को लाइन हाजिर किया। उसके खिलाफ विभागीय जांच के निर्देश दिए गए हैं।

मृतक के परिजनों ने गांव के दुर्गा सिंह, सोनू सिंह, वीरेन्द्र व बड़का के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। वीरेन्द्र और बड़का को पकड़ लिया गया है। दो लोगों की तलाश के लिए पुलिस की चार टीमें गठित की गई हैं। दरोगा प्रेमवीर को गिरफ्तार कर सरकारी पिस्टल जांच के लिए कब्जे में ली गई है। दरोगा द्वारा गांव में एक गोली भी चलाई गई हैसाभार-लाइव हिन्दुस्तान

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!