ताज़ा खबर :
prev next

पाकिस्तान में हिंदुओं की हालत पर क्या बोले वहां के अल्पसंख्यक आयोग अध्यक्ष चेला राम

पाकिस्तान के राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के चेयरमैन चेला राम ने एक बयान में कहा है कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक को बराबरी का दर्जा हासिल है.

उन्होंने कहा कि भारत में मोदी सरकार अल्पसंख्यकों के साथ दुर्व्यवहार कर रही है.

बुधवार को इस्लामाबाद में एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए चेला राम ने कहा कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को पूरी स्वायत्ता हासिल है.

उन्होंने कहा कि वहीं भारत में अल्पसंख्यकों के साथ बुरा व्यवहार किया जा रहा है.

उन्होंने ये भी कहा कि पाकिस्तान के हिंदू भारत में अपने धर्म स्थलों का दौरान करने से डरते हैं क्योंकि मोदी सरकार के दौरान उनके साथ अमानवीय व्यवहार किया जा रहा है.

उन्होंने भारत में 11 पाकिस्तानी हिंदुओं की हत्या की आलोचना भी की और कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की नीतियों के ग़लत नतीजे आ रहे हैं.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के सदस्यों ने देशभर का दौरा किया है और अल्पसंख्यक समुदायों को होनी वाली दिक़्क़तों का जायज़ा लिया है.

उन्होंने ये भी कहा कि अल्पसंख्यक आयोज जल्द ही अंतरराष्ट्रीय मीडिया को बताएगा कि पाकिस्तान में किस तरह अल्पसंख्यक समुदायों की सुरक्षा की जा रही है.

उन्होंने कहा कि सरकार अल्पसंख्यक समुदायों के धर्मांतरण को रोकने के लिए सख़्त क़दम भी उठा रही है.

पाकिस्तान के अल्पसंख्यक आयोग ने सांप्रदायिक सद्भाव के लिए एक क़ानून का मसौदा भी तैयार किया है जिसे संसद के पास भेजा गया है.

पाकिस्तान के अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष चेला राम भले ही पाकिस्तान सरकार की तारीफ़ कर रहे हैं और दावा कर रहे हैं कि वहां हिंदुओं की हालत अच्छी है.

लेकिन पाकिस्तान में हिंदुओं के मानवाधिकार हनन की भी ख़बरें ख़ूब आती रही हैं.

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदुओं पर हमले और उनके धर्मस्थलों को निशाना बनाने की ख़बरें भी बहुत आम हैं.

हाल ही में सिंध प्रांत के एक मंदिर में तोड़फोड़ की गई थी. पाकिस्तान के सिंध प्रांत में स्थानीय पुलिस ने हिंदू समुदाय के एक मंदिर में तोड़फोड़ का मामला 11 अक्टूबर को दर्ज किया था. इस सिलसिले में एक संदिग्ध को गिरफ्तार भी किया गया था. सिंध के बदीन ज़िले के कड़ियू घनौर शहर में स्थित मंदिर में ये तोड़फोड़ की गई थी.

कड़ियू घनौर शहर में हिंदू समुदाय के कोल्ही, मेघवाड़, गुवारिया और कारिया समुदाय के लोग रहते हैं और वे सब राम पीर मंदिर में पूजा-अर्चना करते हैं.

पाकिस्तान के पेशावर स्थित प्राचीन हिंदू मंदिर पंज तीरथ को पिछले साल (2019) में राष्ट्रीय विरासत घोषित किया गया था और उसे पूजा के लिए दोबारा खोलने का एलान किया गया था. मगर दो पक्षों के विवादित दावों की वजह से इसे दोबारा खोलने का काम रोक दिया गया है और यह अब तक नहीं खुल पाया है.

हिंदुओं की लड़कियों के ज़बरदस्ती धर्मांतरण कराए जाने और मुसलमान युवकों से शादी कराने की ख़बरें भी आती रहती हैं.

अभी हाल ही में ख़बर आई थी कि पाकिस्तान के सिंध प्रांत के रेगिस्तानी इलाक़े थार में पुलिस के मुताबिक़ बीते साल कथित तौर पर रेप का निशाना बनने वाली एक हिंदू लड़की ने इसी महीने की तीन तारीख़ को आत्महत्या कर ली थी.

पुलिस के मुताबिक़ लड़की को धमकियां मिल रहीं थीं और ब्लैकमेल किया जा रहा था. ये घटना थरपारकर ज़िले के डालान-जो-टर्र गांव में हुई थी. पीड़िता ने एक कुएं में कूदकर आत्महत्या कर ली थी.

पुलिस ने पीड़िता के परिजनों की शिकायत के आधार पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मुक़दमा दर्ज कर इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था.साभार-ंबी बी सी

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *