ताज़ा खबर :
prev next

रेल मंत्रालय,लाखों कर्मचारियों और पेंशनधारकों के लिए रेलवे की ESS सुविधा, अब ऑनलाइन होंगे ये काम

रेल मंत्रालय (Ministry of Railway) ने गुरुवार को अपने लाखों कर्मचारी व पेंशनधारकों के लिए एचआर मैनेजमेंट सिस्टम (HRMS) लॉन्च किया है। इसके तहत कर्मचारियों को पीएफ बैलेंस, पीएफ एडवांस समेत कई जरूरी जानकारियां ऑनलाइन ही मिल सकेंगी।

नई दिल्ली। इंडियन रेलवे (Indian Railway) ने अपने मौजूदा व रिटायर्ड कर्मचारियों के लिए गुरुवार को ऑनलाइन एचआर मैनेजमेंट सिस्टम (HRMS) लॉन्च किया है। इस HRMS के तहत कर्मचारी व पेंशनधारक अपना पीएफ बैलेंस चेक करने और पीएफ एडवांस के लिए आवेदन करने समेत कई काम ऑनलाइन ही पूरा कर सकेंगे। रेल मंत्रालय (Ministry of Railway) ने गुरुवार को एक बयान जारी कर बताया कि HRMS प्रोजेक्ट के जरिए प्रोडक्टिविटी बढ़ाने में मदद मिलेगी और कर्मचारियों की संतुष्टि भी होगी। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन व सीईओ विनोद कुमार यादव (Vinod Kumar Yadav) ने कर्मचारियों और पेंशनधारकों के लिए इस HRMS के मॉड्यूल और यूजर डिपोट को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लॉन्च किया।

इसमें एक एम्प्लॉई सेल्फ सर्विस (ESS- Employee Self Service) मॉड्यूल भी है, जिसके जरिए कर्मचारियों HRMS के अन्य मॉड्यूल से इंटरएक्ट कर सकेंगे। कर्मचारी कई जरूरी सुधार के लिए इसी HRMS के जरिए संपर्क कर सकेंगे।

घर बैठे पीएफ एडवांस के लिए आवेदन कर सकेंगे
इसमें से एक मॉड्यूल प्रोविडेंट फंड एडवांस  (PF Advance) का है। इसके जरिए कर्मचारी घर बैठे ऑनलाइन ही अपना पीएफ बैलेंस चेक कर सकेंगे और पीएफ एडवांस के लिए आवेदन कर सकेंगे।एडवांस प्रोसेसिंग ऑनलाइन ही की जाएगी और कर्मचारी अपने पीएफ एप्लीकेशन स्टेटस को ऑनलाइन ही चेक कर सकेंगे।

ऑनलाइन होगा रिटायरमेंट होने वाले कर्मचारियों का सेटलमेंट प्रोसेस
इसके अलावा विनोद कुमार यादव ने सेटलमेंट मॉड्यूल भी लॉन्च किया. इसके तहत रिटायर होने वाले कर्मचारियों का सेटलमेंट प्रोसेस​ डिजिटल माध्यम से पूरा किया जाएगा। रिटायर होने वाले कर्मचारी सेटलमेंट/पेंशन बुकलेट ऑनलाइन ही भर सकेंगे। इन कर्मचारियों की सर्विस डिटेल्स और पेंशन प्रोसेसिंग का काम ऑनलाइन ही पूरा होगा। इससे पेपर की बचत करने में मदद मिलेगी और सेटलमेंट प्रोसेसिंग की मॉनिटरिंग भी हो सकेगी ताकि समय पर काम पूरे किए जा सकें।

रेलवे ने अपने बयान में कहा, ‘यह रेलवे सिस्टम की दक्षता और उत्पादकता बढ़ाने की ओर एक कदम है। साथ ही, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा डिजिटलीकरण के विज़न को भी पूरा हो सकेगा।’ उम्मदी की जा रही है कि इस एचआरएमएस से सभी कर्मचारियों के कार्यशैली में कई बदलाव होंगे और वे टेक सेवी मन सकेंगे।साभार- न्यूज़18

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *