ताज़ा खबर :
prev next

डीएल और पैन कार्ड की तरह होगी वाहनों की स्मार्ट आरसी, यूपी परिवहन विभाग ने गठित की कमेटी

नई आरसी में पहले की तरह एक पेज वाला लंबा-चौड़ा पंजीयन प्रमाणपत्र नहीं बल्कि पॉकेट पर्स में रखा जाने वाला कार्ड होगा। इसके लिए अन्य प्रांतों और आसपास के जिलों से जानकारी मंगाई गई है। इसे पॉकेट पर्स में आसानी से रखा जा सकेगा।

लखनऊ। फिटनेस पोर्टल के ट्रायल के बाद परिवहन विभाग अब आरसी को स्मार्ट स्वरूप देने की तैयारी कर रहा है। डीएल और पैन कार्ड की तरह आरसी बनेगी। इसे लेकर कवायद शुरू हो गई है। वित्त नियंत्रक की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित कर दी गई है, जो यह तय करेगी कि इसमें चिप लगाई जाएगी या फिर इसे लैमिनेटेड कार्ड के रूप में तैयार किया जाएगा। नई आरसी में पहले की तरह एक पेज वाला लंबा-चौड़ा पंजीयन प्रमाणपत्र नहीं, बल्कि पॉकेट पर्स में रखा जाने वाला कार्ड होगा। इसके लिए अन्य प्रांतों और आसपास के जिलों से जानकारी मंगाई गई है। इसे पॉकेट पर्स में आसानी से रखा जा सकेगा। एआरटीओ आइटी प्रभात पांडेय ने बताया कि स्मार्ट आरसी बनाए जाने के लिए एनआइसी से बातचीत हो चुकी है।

200 रुपये होगी स्मार्ट आरसी की कीमत

शासन के निर्देश पर शुरू हुई इस कवायद को जल्द ही अंतिम रूप दिया जाना है। एआरटीओ के मुताबिक, प्रदेश के जिलों और प्रांतों से सूचनाएं प्राप्त होते ही कमेटी अपनी रिपोर्ट परिवहन आयुक्त को सौंपेगी। रिपोर्ट मिलने के बाद आरसी को अंतिम रूप दिया जाएगा। स्मार्ट आरसी की कीमत करीब 200 रुपये होने की संभावना है।

धीरे-धीरे कर पूरी प्रणाली ऑनलाइन होती जा रही है। डीएल आदि भी स्मार्ट कार्ड सरीखे हो गए हैं। ऐसे में अब आरसी यानी पंजीयन प्रमाणपत्र को भी स्मार्ट बनाने की दिशा में काम शुरू हो गया है। कमेटी गठित कर दी गई है। रिपोर्ट मिलते ही इसे अंतिम रूप दे दिया जाएगा।’  – धीरज साहू, परिवहन आयुक्त -साभार-दैनिक जागरण

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *