ताज़ा खबर :
prev next

दिल्ली में बर्ड फ्लू की आशंकाः गाजीपुर मुर्गा मंडी 10 दिन के लिए बंद, 34 और पक्षियों की मौत

दिल्ली में बर्ड फ्लू की पुष्टि न होने के बावजूद संकट गहराता जा रहा है। शनिवार को डीडीए की संजय झील में 10 बतखें व जसोला पार्क में 24 कौवे मरे मिले। वहीं, मयूर विहार फेज-तीन, द्वारका और हस्तसाल के पार्कों में पक्षियों के मरने का सिलसिला जारी है।

एहतियात के तौर पर दिल्ली सरकार ने शनिवार से ही गाजीपुर मुर्गा मंडी को 10 दिन के लिए बंद कर दिया है। वहीं, दूसरे राज्यों से पक्षियों की खरीद पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है। संजय झील, जसोला व द्वारका और हौजखास के पार्क को लोगों के लिए बंद कर दिया है।

दिल्ली सरकार ने एक हेल्पलाइन नंबर 23890318 जारी किया है, ताकि लोग अपने इलाकों में बड़ी संख्या में एक साथ मरे पक्षियों की सूचना दे सके। सभी जिलों में रैपिड रिस्पॉस टीमें बना दी गई हैं। पशुपालन विभाग के अधिकारी सभी बर्ड मार्केट, वाइल्ड लाइफ संस्थानों व जल निकायों पर नजर रख रहे हैं।

पशुपालन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में पिछले तीन दिन में करीब 50 पक्षी मर चुके हैं। सबसे अधिक कौवों की संख्या है। विभाग के डॉ. राकेश सिंह ने बताया कि मयूर विहार, द्वारका व हस्तसाल गांव में कौवों के मरने की सूचना मिली है। हालांकि, अभी तक नहीं पता चला है कि मौत बर्ड फ्लू की वजह से हुई है या और कोई कारण है। दूसरी ओर डीडीए ने एहतियातन पार्कों में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव शुरू कर दिया है।

हर जरूरी कदम उठा रहे हैं, घबराएं नहीं: केजरीवाल
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सलाह दी है कि लोगों को घबराने जरूरत नहीं है। सरकार सभी जरूरी कदम उठा रही है। दिल्ली में बर्ड फ्लू का अब तक एक भी कन्फर्म केस नहीं आया है। 104 नमूनों की रिपोर्ट सोमवार तक मिलने की उम्मीद है।

दिल्ली सरकार ने एहतियातन दो फैसले लिए हैं। दिल्ली के अंदर लाइव बर्ड्स (जीवित पक्षी) के आयात पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। दिल्ली में बाहर से कोई भी जीवित पक्षी लाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। वहीं, गाजीपुर पोल्ट्री मार्केट को 10 दिन के लिए बंद करने का निर्णय लिया है।साभार-अमर उजाला

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *