ताज़ा खबर :
prev next

शीतलहर का कहर: अगले चार दिन तक उत्तर भारत को कंपकंपाएगी ठंड

तापमान गिरने से उत्तर भारत का मैदानी इलाका अगले चार दिन जबर्दस्त शीत लहर की चपेट में रहेगा। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने मंगलवार को मौसम का मिजाज बिगड़ने को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया। इस दौरान मैदानी भागों में न्यूनतम तापमान के सामान्य से 2-5 डिग्री सेल्सियस तक नीचे जाने की संभावना है। उधर, तमिलनाडु और पुडुचेरी में जबर्दस्त बारिश को लेकर भी ऐसा ही अलर्ट जारी किया गया है।

मैदानी इलाकों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी, घने कोहरे की भी चेतावनी
आईएमडी ने कहा कि उत्तर और उत्तर पश्चिमी शुष्क हवाओं के कारण अगले चार-पांच दिन उत्तर पश्चिमी भारत के ज्यादातर हिस्सों में न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहेगा। इसकी वजह से अगले तीन दिन पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड में भीषण शीतलहर चलेगी।

मौसम विभाग का कहना है कि अगले चार-पांच दिनों में उत्तर पश्चिमी भारत के विभिन्न हिस्सों में सघन से काफी सघन धुंध छायी रहेगी। पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के लिए 13 से 16 जनवरी तक के लिए जबकि राजस्थान के लिए 13 जनवरी का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

चार कलर कोड से समझें मौसम की तीव्रता
आईएमडी ने मौसम की तीव्रता को बताने के लिए चार कलर कोड निर्धारित किए हैं। ऑरेंज कोड दरअसल खतरनाक मौसम के लिए तैयार रहने का संकेत है, वहीं लाल कोड अत्यधिक खराब मौसम के कारण जान माल के नुकसान से बचाने के लिए कार्रवाई करने की चेतावनी है। हरा कोड सामान्य मौसम को दर्शाता है, वहीं पीला कोड मौसम बिगड़ने पर सतर्क रहने की चेतावनी है।

माउंट आबू में तापमान माइनस 2 डिग्री
राजस्थान में शीतलहर जारी है। राज्य का इकलौता हिल स्टेशन माउंट आबू सबसे ठंडा रहा, जहां मंगलवार को तापमान माइनस दो डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि सीकर 1.5 डिग्री तापमान के साथ दूसरा सबसे ठंडा रहा। वहीं दिल्ली में मंगलवार को न्यूनतम तापमान गिरकर 4.3 डिग्री पर चला गया, जो सामान्य से तीन डिग्री कम है। मौसम विभाग ने कहा है कि तापमान के अभी और नीचे जाने के आसार हैं। साभार-अमर उजाला

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *