ताज़ा खबर :
prev next

NCR,मेट्रो फेज-4: 65 किलोमीटर के दायरे में बनेंगे 46 स्टेशन, निर्माण की रफ्तार तेज

दिल्ली मेट्रो के फेज-4 में नेटवर्क विस्तार की शुरुआत के बाद निर्माण की रफ्तार तेज कर दी गई है। फेज-4 के मंजूर तीनों कॉरिडोर पर करीब 65 किलोमीटर में 46 स्टेशनों का निर्माण किया जाएगा। खास बात यह होगी कि फेज-4 के स्टेशनों के सभी एएफसी गेट पर यात्रियों को नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) के इस्तेमाल की सुविधा होगी।

पिलर, पानी की आपूर्ति, ड्रेनेज, फुटओवर ब्रिज को जोड़ने सहित मेट्रो की लाइनें बिछाने से पहले के प्री फ्रैब्रिकेटेड स्ट्रक्चर भी लगाए जाने लगे हैं। दो अलग अलग लाइनों के आठ मेट्रो स्टेशनों के निर्माण और नवीनीकरण की शुरुआत से मेजेंटा लाइन के बढ़ाए जाने वाले नेटवर्क पर फेज-4 में सबसे पहले यात्रियों के लिए मेट्रो की सेवा मिलेगी।

जनकपुरी पश्चिम-आरके आश्रम कॉरिडोर पर जनकपुरी से आगे पश्चिम विहार, पीरागढ़ी से आजादपुर, अशोक विहार के बीच आठ एलिवेटेड स्टेशनों पर निर्माण के साथ साथ प्री इंजीनियर्ड बिल्डिंग, सैनिटरी इंस्टॉलेशन के अलावा स्टेशनों को आधुनिक शक्ल देने के लिए डिजाइन तैयार कर, निर्माण की शुरुआत कर दी गई है। साइट को विकसित किया जा रहा है ताकि मेट्रो के परिचालन के लिए सभी जरूरी बुनियादी निर्माण जल्द पूरा हो सके।

निर्माण के दौरान सभी तकनीकी पहलुओं पर खास ध्यान दिया जा रहा है ताकि फेज-4 के स्टेशनों पर सभी सुविधाओं सहित सुरक्षा के लिए भी और पुख्ता इंतजाम किए जा सकें। कोरोना काल में फेस-4 के निर्माण की रफ्तार भी प्रभावित हुई थी, लेकिन इसकी रफ्तार बढ़ा दी गई है।

इस दायरे के आठ स्टेशनों में मधुबन चौक, प्रशांत विहार, उत्तरी पीतमपुरा, हैदरपुर, बादली मोड़(मौजूदा लाइन-2) के अलावा मेजेंटा लाइन के विस्तार के तहत भलस्वा, मजलिस पर्क, आजादपुर एवं अशोक विहार में निर्माण कार्य किए जा रहे हैं। रेल ट्रैक मॉडलिंग, एनिमेटेड वॉकथ्रू भी बनाए जाएंगे। इसके लिए दिसंबर 19 में ही निर्माण की शुरुआत कर दी गई थी।

दो अन्य कॉरिडोर पर भी मेट्रो के निर्माण की प्रक्रिया चल रही हैं। हालांकि बीच में कुछ अड़चनें भी आईं, जिसे दूर करने के लिए डीएमआरसी की ओर से कोशिशें जारी हैं। जनकपुरी पश्चिम-आरके आश्रम कॉरिडोर पर भी वन विभाग की ओर से नोटिस मिलने के बाद, शेष हिस्से में निर्माण कार्य किए जा रहे हैं।

तीन कॉरिडोर पर 65 किलोमीटर में दौड़ेगी मेट्रो

  • तुगलकाबाद-एयरोसिटी-23.62 किलोमीटर में होंगे 16 स्टेशन
  • जनकपुरी पश्चिम-आरके आश्रम कॉरिडोर पर 28.92 किलोमीटर में 22 स्टेशन
  • मौजपुर-मजलिस पार्क के बीच 12.55 किलोमीटर में आठ स्टेशन होंगे, लेकिन इनमें एक भी भूमिगत नहीं होगा। साभार-अमर उजाला

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *