ताज़ा खबर :
prev next

गाजियाबाद,सनसनीखेज खुलासा करने के बाद बच्ची की भी मौत हुई, रिश्तेदार महिला ने दिया हत्याकांड को अंजाम, जानिए क्यों

गाजियाबाद। मसूरी क्षेत्र स्थित सरस्वती विहार कालोनी में डबल मर्डर हुई घटना के दौरान घायल सात वर्षीय मीनाक्षी की उपचार के दौरान मंगलवार को मौत हो गई। शनिवार को लूट के विरोध में उमा ने प्रेमी सोनू खान के साथ मिलकर डोली (30 वर्ष) और उसके बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने आई अंशु की गोली मारकर हत्या कर दी थी। मौके पर मौजूद डोली के तीन बच्चे बेटी गौरी (10 वर्ष), मीनाक्षी (7 वर्ष) और बेटे रुद्र (5 वर्ष) पर चाकू और सिलबट्टे से हमला किया था। डॉक्टरों के अनुसार गौरी और रुद्र की हालत खतरे से बाहर है। इस घटना में अब तक 3 लोगों की मौत हो गई है।

आपको बता दें कि शनिवार की रात घर में घुसकर दो लोगों की हत्या कर दी गई थी। एक महिला ने प्रेमी के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया था। आरोपित महिला पीडि़त परिवार की दूर की रिश्तेदार है। वारदात के बाद पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया था।

पुलिस के मुताबिक मसूरी थानांतर्गत शताब्दीपुरम के सरस्वती विहार में गृहणी डोली (30) और टयूटर अंशु की शनिवार की देर शाम गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। अंशु वहां डोली के बच्चों को टयूशन पढ़ाने आई थी। वारदात के समय घर में डोली के 3 बच्चे भी मौजूद थे। जिनमें बेटा रूद्ध (5), बेटी मीनाक्षी (7) और गौरी (10) शामिल हैं। इन मासूमों के सामने जघन्य वारदात को अंजाम दिया गया था। वहीं घटना के बाद बच्चों पर भी जानलेवा हमला किया गया था।

डोली के ससुर लोकमन ठाकुर गाजियाबाद के घंटाघर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत चौपला मंदिर पर कांजी के बड़े की ठेली लगाते हैं। लोकमन शनिवार की रात करीब 9 बजे घर पहुंचे तो घटना की जानकारी हो सकी। घर के भीतर का नजारा देखकर लोकमन के होश उड़ गए। उन्होंने मामले की सूचना तुरंत पुलिस को दी। डबल मर्डर की सूचना से पुलिस विभाग में एकाएक हड़कंप मच गया।

घटना की सूचना पाकर आईजी प्रवीण कुमार, एसएसपी कलानिधि नैथानी, एसपी ग्रामीण डॉ. ईरज राजा, सीओ सदर कमलेश नारायण पाण्डेय, मसूरी थाना प्रभारी राघवेन्द्र सिंह ने मौके पर जाकर छानबीन शुरू की। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया वारदात का खुलासा करने को पुलिस की 5 टीमें गठित की गईं थी। घटना के कुछ घंटे बाद ही दोहरे हत्याकांड का खुलासा कर दिया गया है।

दरअसल घटनास्थल पर पुलिस ने डोली के बच्चों से बातचीत की थी। उन्होंने पुलिस को जरूरी जानकारी दी थी। जिसके आधार पर पुलिस ने उमा पत्नी हरीश और सोनू पुत्र लियाकत निवासी लाल क्वार्टर सिहानी गेट गाजियाबाद को गिरफ्तार किया। पुलिस के साथ मुठभेड़ में सोनू गोली लगने से घायल हो गया। एसपी देहात डॉ. ईरज राजा ने बताया उमा ने प्रेमी सोनू के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया था। दोनों ने योजनाबद्ध तरीके से डोली के घर में जाकर लूटपाट की। विरोध करने पर डोली व वहां मौजूद टयूटर अंशु को गोली मार दी। पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त पिस्टल, तमंचा के अलावा घर से लूट गए जेवरात, नकदी, मोबाइल फोन आदि बरामद कर लिया है।

आरोपियों ने आर्थिक और भौतिक लाभ के लिए वारदात करना कबूला है। उन्होने बताया आरोपियों ने लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए पिछले कई माह से ही षडयंत्र रच थे। रात भी कि योजनाबद्ध तरीके से घर के अंदर घुस और फिर चाय, नाश्ता किया। मौका पाकर दोनों को मौत के घाट उतार दिया। साभार- ट्रीसिटी टुडे

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *