ताज़ा खबर :
prev next

गाजियाबाद,नेहरूनगर स्टेडियम के पास बनेगी आवासीय योजना

गाजियाबाद। महानगर के पॉश क्षेत्र नेहरूनगर में नेहरू क्रिकेट स्टेडियम के बराबर में शहरवासियों को आवासीय योजना की सौगात मिलेगी। नेहरूनगर में नेहरू स्टेडियम के बराबर में जीडीए के गोदाम की 9500 वर्ग मीटर जमीन है। इस भूखंड पर बहुमंजिला आवासीय योजना लाने से पहले भू-उपयोग परिवर्तन के लिए जीडीए की 18 जनवरी को प्रस्तावित बोर्ड बैठक में प्रस्ताव रखा जाएगा। अगर प्रस्ताव को बोर्ड की मंजूरी मिलती है तो ग्रुप हाउसिंग योजना के आने पर मुहर लग जाएगी।

बीते साल हुई बोर्ड बैठक में भी जीडीए की ओर से इस बाबत प्रस्ताव रखा गया था लेकिन जीडीए बोर्ड सदस्यों के विरोध व तकनीकी कारणों से प्रस्ताव निरस्त हो गया था। नेहरूनगर में स्टेडियम के बराबर व गणेश अस्पताल के सामने जीडीए का 9500 वर्ग मीटर क्षेत्र में पुराना गोदाम है। जीडीए की ओर से तीन दशक पहले निर्माण संबंधी सामान रखने के लिए पांच गोदाम स्थापित किए गए थे। लेकिन सरकारी व्यवस्थाओं में तब्दीली आने के चलते इन गोदाम का इस्तेमाल न के बराबर होने लगा। वर्तमान में सभी गोदाम खाली पड़े हुए हैं। प्राधिकरण की ओर से इस भूखंड पर बहुमंजिला आवासीय योजना लाने की तैयारी की जा रही है।

इसी को लेकर 18 फरवरी को जीडीए की बोर्ड बैठक में जमीन के भू-उपयोग को गोदाम से परिवर्तित कर आवासीय किया जाएगा। बोर्ड से प्रस्ताव पास होने के बाद या तो खुद ग्रुप हाउसिंग योजना लाने या फिर बहुमंजिला आवासीय योजना के लिए भूखंड को बेचने का निर्णय लिया जा सकता है। जीडीए अधिकारियों की मानें तो बोर्ड से प्रस्ताव को हरी झंडी मिलने के बाद सबसे पहले सभी गोदाम को तोड़ने की प्रक्रिया शुरू होगी। गोदाम में वर्तमान में नाम मात्र का सामान रखा है। प्राधिकरण की अन्य साइट पर इस सामान को रखवाया जाएगा। फिर मलबे को हटवाने के साथ आगे की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

आवासीय योजना में दुकानों की मिल सकती है मंजूरी
जीडीए अधिकारियों के मुताबिक नेहरूनगर में जीडीए के गोदाम के भू-उपयोग परिवर्तन के प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद आवासीय योजना लाने का रास्ता साफ हो जाएगा। ग्रुप हाउसिंग योजना में बड़ी संख्या में भवनों के साथ योजना में लोगों की सहूलियत के लिए विभिन्न प्रावधान किए जाएंगे। ग्रुप हाउसिंग में लोगों की सुविधा के लिए दुकानों को बनाने की अनुमति प्रदान की जा सकती है। ऐसे में लोगों को सामान खरीदने के लिए सोसायटी से बाहर नहीं जाना होगा। भू-उपयोग परिवर्तन के बाद ग्रुप हाउसिंग भूखंड का विस्तृत ले-आउट में इसका बंदोबस्त किया जाएगा।

फिर हो सकता है प्रस्ताव पर विवाद
नेहरूनगर में ग्रुप हाउसिंग योजना लाने पर जीडीए बोर्ड सदस्यों का विरोध बरकरार है। ऐसे में आगामी बोर्ड बैठक के फिर से हंगामेदार रहने की संभावना जताई जा रही है। बोर्ड सदस्यों ने भू-उपयोग परिवर्तन संबंधी प्रस्ताव का विरोध करने की बात कही है। बोर्ड सदस्यों ने ग्रीन बेल्ट में भूखंड दर्ज होने के चलते नियमों का हवाला देते हुए भू-उपयोग परिवर्तन के निर्णय को गलत करार दिया है। ऐसे में इसी प्रस्ताव को लेकर फिर से विवाद बढ़ सकता है।

विवाद पर जीडीए का यह है तर्क
जीडीए अधिकारियों के मुताबिक जीडीए के नेहरूनगर गोदाम में बेहद कम मात्रा में सामान रखा हुआ है। गोदाम और उसमें रखे सामान की सुरक्षा के मद्देनजर पूरे भूखंड की चारदीवारी कराई गई है। ऐसे में भू-उपयोग परिवर्तन संबंधी कोई तकनीकी बाधा नहीं है।

कोट…
नेहरूनगर में प्राधिकरण के गोदाम की जमीन का भू-उपयोग परिवर्तन संबंधी प्रस्ताव बोर्ड बैठक में रखा जाएगा। प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद आवासीय योजना लाने या फिर ग्रुप हाउसिंग भूखंड को बेचने का निर्णय लिया जाएगा। – संतोष कुमार राय, सचिव, जीडीए-साभार-अमर उजाला

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *