ताज़ा खबर :
prev next

इटावा: महिला सिपाही से विवाद पर पुलिसकर्मियों ने शिक्षक की पत्नी को उठाया, थाने में रात भर पीटा

Etawah News: इटावा के एसएसपी आकाश तोमर ने महिला की थाने में पिटाई के मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं. महिला और शिक्षक संध के प्रतिनिधियों की ओर से मेडिकल रिपोर्ट और वीडियो को भी एसएसपी को सौंप दिया गया है.

इटावा. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मिशन शक्ति (Mission Shakti) अभियान की सरेआम धाज्जियां तब उड़ गईं, जब महिला सिपाही (Woman Constable) से हुए मामूली विवाद के बाद शिक्षक की पत्नी को रात के अंधेरे मे पुलिस थाने में पकड़कर लाया जाता है और  उनके साथ पुरूष पुलिसकर्मी थर्ड डिग्री का इस्तेमाल करके जबरदस्त यातानाएं देते हैं. यह सब कुछ महिला पुलिसकर्मी को खुश करने के लिए इटावा की फ्रेंड्स कॉलोनी पुलिस ने किया है. यही नहीं उल्टे पीडित महिला के खिलाफ ही मामला दर्ज करने के बाद उसको धारा-151 मे पांबद कर दिया.

थर्ड डिग्री इस्तेमाल का यह पूरा सनसनीखेज मामला उत्तरप्रदेश के इटावा जिले में थाना फ्रेंड्स कालोनी से जुड़ा हुआ है. शिक्षक की पत्नी के शरीर पर रात के अंधेरे में किए गए थर्ड डिग्री टॉर्चर का असर देर शाम तब तक बरकरार रहा जब तक पीडित महिला एसएसपी से मिलने के लिए उनके आवास पर पहुंची. उसकी पीठ पर लाठियों छाप साफ दिखाई दी. इसके बाद महिला का अस्पताल में मेडिकल कराया गया.

शिक्षक संघ ने दी सड़क पर उतरने की चेतावनी

उधर शिक्षक की पत्नी को थाने के लॉकअप में बेरहमी से पीटने की घटना के बाद इटावा के शिक्षकों का गुस्सा भड़क उठा है. शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष का कहना है कि अगर दोषी पुलिस वालों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही नही की गई तो शिक्षक संघ सड़कों पर उतर सकता है. महिला सिपाही से मामूली झगड़े के बाद पुलिस ने शिक्षक की पत्नी को पकड़कर थाना में लाकर रात-भर पीटा जाता है. पुलिस ने मामले को गुमराह करने के लिए पीड़ित महिला के खिलाफ थाना में मुकदमा दर्ज कर दिया है. पुलिस द्वारा किये गए थर्ड डिग्री की शिकायत करने शिक्षक संघ समेत दर्जनों लोग पीड़ित महिलाओं को लेकर एसएसपी आवास शिकायत करने पहुंचे.

ये है पूरा मामला

पीड़ित महिला संगीता ने बताया कि थाना फ्रेंड्स कालोनी में तैनात महिला सिपाही प्रियंका और वह एक ही मकान में किराए पर रहती है. दरवाजा देरी से खोलने पर नाराज महिला सिपाही प्रियंका ने उनके साथ घर मे घुसकर पिटाई की और बाद में थाना पुलिस को बुलवाकर उन्हें और उनके सरकारी अध्यापक पति के खिलाफ थाना में ले गई. यहां पुलिस ने उनके साथ थर्ड डिग्री का इस्तेमाल कर रात भर लाठी डंडों से पिटाई की और सुबह महिला सिपाही प्रियंका की तहरीर पर उनके खिलाफ थाना में मुकदमा दर्ज कर दिया.

उसके बाद दोपहर उन्हें धारा-151 में पाबन्द करते हुए जेल भेजने का प्रयास किया लेकिन सिटी मजिस्ट्रेट से उन्हें जमानत मिल गई. जमानत मिलने के बाद उन्होंने अपना चिकित्सीय परीक्षण निजी तौर पर जिला अस्पताल में करवाया और थाना फ्रेंड्स कालोनी पुलिस की शिकायत करने एसएसपी आवास में आई हैं. उन्होंने बताया कि रात भर पुलिस द्वारा इस्तेमाल किये गए थर्ड डिग्री में महिला सिपाही समेत पुरूष पुलिसकर्मी भी शामिल रहे. संगीता की पीठ पर पुलिस के डंडों की छाप साफ नजर आ रही है.

एसएसपी ने दिए जांच के आदेश

शिक्षक संघ के अध्यक्ष विनोद यादव का कहना है कि मामूली विवाद मे एक शिक्षक की पत्नी के साथ पुलिस ने जिस तरह का अमानवीय व्यवहार किया है, वो किसी भी स्तर पर माफी के लायक नहीं है. यह केवल महिला पुलिसकर्मी को खुश करने के लिए पुलिस की ओर से किया गया क्रूरता भरा कारनामा है. कड़ी कार्रवाई दोषियों के खिलाफ जरूर बनती है.

उधर पूरे प्रकरण को लेकर एसएसपी आकाश तोमर ने जांच के आदेश दे दिए हैं. महिला और शिक्षक संध के प्रतिनिधियों की ओर से महिला के मेडिकल और वीडियो को भी एसएसपी को सौंप दिया गया है. जांच के बाद ही पुलिस किसी भी नतीजे पर पहुंच सकेगी, यह पुलिस अफसर का तर्क है.साभार- न्यूज़18

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!