ताज़ा खबर :
prev next

कोरोना ने मचाई श्रम बाजार में उथल-पुथल, एक करोड़ अस्सी लाख लोगों को बदलना पड़ेगा अपना पुराना काम

कोविड-19 ने दुनिया भर के श्रम बाजारों की तस्वीर बदल दी है. एक रिपोर्ट के मुताबिक इसका सबसे ज्यादा असर निम्न मध्य आय या निम्न आय वाले देशों के श्रमिकों पर पड़ा है.

कोविड-19 ने दुनिया भर के साथ ही भारतीय श्रम बाजार में भारी उथलपुथल मचाई है. कोरोना संक्रमण की वजह से भारतीय अर्थव्यवस्था को लगे झटके की वजह से लगभग एक करोड़ अस्सी लाख लोगों को 2030 तक नए काम पकड़ने होंगे. मैकिंजी ग्लोबल इंस्टीट्यूट की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि रिटेल, फूड सर्विसेज, हॉस्पेटिलिटी और ऑफिस एडमिनिस्ट्रेशन जैसे जॉब पर इसका काफी असर होगा. इन सेक्टरों में कम वेतन पाने वाले कर्मचारियों पर इसका सबसे ज्यादा असर होगा.

दुनिया भर के श्रमिकों की आय घटी – आईएलओ 

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड-19 के खत्म होने के बाद भी कामकाज के तौर-तरीके में आए बदलाव आगे भी जारी रहेंगे. इनमें रिमोट वर्किंग या वर्क फ्रॉम होम शामिल है. ई-कॉमर्स और ई-इंटरेक्शन बढ़ेगा. हालांकि कम वेतन वाले कर्मचारियों पर नकारात्मक असर पड़ेगा. कोविड-19 महामारी की मार से 2020 की पहली तीन तिमाहियों में वैश्विक स्तर पर श्रमिकों की आय में 10.7 फीसदी या 3,500 अरब डॉलर की जबर्दस्त गिरावट आई है. अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक कोविड-19 की वजह से श्रम के घंटों का भारी नुकसान हुआ. इससे दुनिया भर में श्रमिकों की आमदनी में गिरावट आई है.

सबसे अधिक नुकसान निम्न-मध्यम आय वर्ग के देशों में

आईएलओ के मुताबिक सबसे अधिक नुकसान निम्न-मध्यम आय वर्ग के देशों में हुआ, जहां श्रमिकों की आय का नुकसान 15.1 फीसदी तक पहुंच गया. 2020 के पहले नौ माह में कार्य घंटों का नुकसान पहले लगाए गए अनुमान से कहीं अधिक रहा . आईएलओ ने कहा कि 2020 की चौथी तिमाही में कार्य घंटों का नुकसान पिछले साल की समान तिमाही की तुलना में 8.6 फीसदी रहने का अनुमान है, जो 24.5 करोड़ एफटीई रोजगार के बराबर है.साभार-एबीपी न्यूज़

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziaba

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *