ताज़ा खबर :
prev next

EPFO Interest Rate 2021: आज होगा पीएफ पर ब्याज का ऐलान, 8.30 से 8.50 फीसदी के रेट से मिल सकता इंटरेस्ट

2019-20 में ब्याज दरों को लेकर आशंकाएं जताई जा रही थीं लेकिन आखिरकार ईपीएफओ ने 8.50 फीसदी ब्याज दर बरकरार रखा था.

ईपीएफओ आज वित्त वर्ष 2020-21 के लिए पीएफ पर ब्याज दर का ऐलान कर सकता है. कुछ मीडिया खबरों में बताया गया है यह ब्याज दर 8.30 से लेकर 8.50 फीसदी तक हो सकती है. अगर ईपीएफओ 8.30 फीसदी ब्याज दर का ऐलान करता है तो यह दशक की सबसे कम ब्याज दर होगी.

8.50 फीसदी ब्याज दर बरकरार रह सकती है

श्रीनगर में ईपीएफओ की सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी की बैठक चल रही है. इसी बैठक में ब्याज दर पर चर्चा होगी और इस पर मंजूरी के बाद इसका ऐलान कर दिया जाएगा. बुधवार शाम को ईपीएफओ की फाइनेंशियल एडवाइजरी कमेटी की बैठक हो चुकी है. हालांकि सूत्रों का कहना है ईपीएफओ पिछले साल (2019-20) के 8.50 फीसदी के ब्याज दर को बरकरार रख सकता है. 8.50 फीसदी ब्याज दर कंट्रीब्यूटर्स के लिए राहत की बात होगी क्योंकि इसमें कमी की आशंका जताई जा रही है. अगर ऐसा होता है तो यह दशक की सबसे कम पीएफ ब्याज दर होगी.

ईपीएफओ की पर्याप्त कमाई, 8.5 फीसदी ब्याज देने में दिक्कत नहीं

सूत्रों का कहना है कि इस बार ईपीएफओ की जितनी कमाई है उससे इसे 8.30 से लेकर 8.50 फीसदी के बीच ब्याज देने में को दिक्कत नहीं होनी चाहिए. 2019-20 की ब्याज दर को लेकर कई बार आशंकाएं पैदा हुई थीं. इनमें इक्विटी सेल और और इंटरेस्ट क्रेडिट को लेकर भी सवाल उठे थे.

आशंका जताई जा रही थी कि ईपीएफओ 8.50 फीसदी ब्याज दे पाएगा भी नहीं. हालांकि 8.50 फीसदी के ब्याज का ऐलान होने के बाद भी केवाईसी का मिलान न होने की वजह से ईपीएफओ के 40 लाख सब्सक्राइबर के खाते में समय पर पैसा क्रेडिट नहीं हो पाया था. बहरहाल, 2020-21 में ईपीएफओ पर ब्याज दर पर सबकी नजर है. हालांकि उम्मीद है कि ईपीएफओ पिछले साल की तरह इस बार भी 8.50 फीसदी ब्याज देगा.साभार-दैनिक भास्कर

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziaba

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *