ताज़ा खबर :
prev next

एंटीलिया स्कॉर्पियो केस:जांच NIA को सौंपी गई, मुकेश अंबानी के घर के बाहर खड़ी गाड़ी में विस्फोटक मिला था, बाद में गाड़ी मालिक की संदिग्ध मौत हुई

पूर्व मुख्यमंत्री और महाराष्ट्र के नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने भी इस मामले की जांच NIA से करवाने की मांग उठाई थी।

उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर स्कॉर्पियो में जिलेटिन की छड़ मिलने और स्कार्पियो मालिक की मौत की जांच अब राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) करेगी। इस मामले में महाराष्ट्र ATS भी जांच कर रही है। ऐसे में अब एक बार फिर केंद्र और राज्य सरकार आमने-सामने आ सकती हैं। स्कॉर्पियो के मालिक मनसुख हिरेन की संदिग्ध मौत मामले में रविवार को महाराष्ट्र ATS ने एक FIR दर्ज कराई है।

हिरेन के शव की जांच के दौरान उनके चेहरे पर पांच रूमाल बंधे थे, जिसके बाद से ही इसे हत्या माना जा रहा था। पूर्व मुख्यमंत्री और महाराष्ट्र के नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने भी इस मामले की जांच NIA से करवाने की मांग उठाई थी। माना जा रहा है कि इसी बात पर अमल करते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जांच NIA को सौंपी है।

मौत के दावे पर सवाल उठने की 5 वजहें

  1. जिस दिन हिरेन मनसुख की बॉडी मिली, उसी दिन मुंबई के DCP ने कहा कि मनसुख ने खुदकुशी की है। इससे पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मनसुख और क्राइम ब्रांच के अधिकारी सचिन वझे के कनेक्शन को लेकर सवाल उठाए थे। उन्होंने NIA जांच की मांग की थी। हालांकि, सचिन ने फडणवीस के सवालों पर अपनी सफाई दी थी।
  2. महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने दावा किया था कि मनसुख की बॉडी पर कोई चोट का निशान नहीं मिला है। अब जो रिपोर्ट सामने आई है, उसमें चोटों का जिक्र है।
  3. जब मनसुख की बॉडी को निकाला गया तो उनके मुंह पर 5 रूमाल बंधे मिलेे। रूमाल बंधे मिलने के बाद आशंका जाहिर की जा रही है कि यह खुदकुशी नहीं, बल्कि मर्डर भी हो सकता है।
  4. मनसुख की पत्नी विमला ने खुदकुशी के एंगल को पूरी तरह नकार दिया है। उन्होंने कहा कि मनसुख खुदकुशी के बारे में सोच भी नहीं सकते थे। विमला ने बताया कि गुरुवार को मनसुख को पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया था, पर उसके बाद वह लौटे नहीं। कांदिवली से किसी तावडे का कॉल आया और उसके बाद उनका फोन बंद हो गया। मनसुख ने इसी अधिकारी से मिलने की बात कही थी।
  5. मनसुख के मोबाइल की आखिरी लोकेशन पालघर के विरार में मिली है, जबकि बॉडी ठाणे के कलवा क्रीक में मिली। दोनों लोकेशन के बीच में काफी अंतर है।
  6. एंटीलिया के बाहर मिली संदिग्ध गाड़ी के मामले में मुंबई के गामदेवी पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया था। इस मामले में 286, 465, 473, 506(2),120(B) IPC and u/s 4 of Explosive Substances Act 1908 के तहत मामले दर्ज किए गए।

क्या है पूरा मामला
25 फरवरी को दक्षिण मुंबई के पेडर रोड स्थित एंटीलिया के बाहर विस्फोटकों से भरी एक स्कॉर्पियो गाड़ी खड़ी मिली थी। 24 फरवरी की मध्य रात 1 बजे यह गाड़ी एंटीलिया के बाहर खड़ी की गई थी। दूसरे दिन गुरुवार को इस पर पुलिस की नजरें गईं और कार से 20 जिलेटिन की रॉड बरामद की गई थीं। 5 मार्च को इस स्कॉर्पियो के मालिक मनसुख हिरेन का शव बरामद हुआ था। कुछ दिन पहले ही मनसुख ने इस गाड़ी के गुम होने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। साभार दैनिक भास्कर

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *