ताज़ा खबर :
prev next

Ghaziabad News: आखिरी 72 घंटों में छिपा है अनिरुद्ध की मौत का राज

Ghaziabad News करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सूरजपाल सिंह अम्मू के बड़े बेटे अनिरुद्ध राघव की मौत ने हर किसी को हिला दिया। सभी के मुख से यही निकला हंसते-खेलते परिवार में अचानक ऐसा क्या हो गया? कुछ लोग सूचना मिलते ही गाजियाबाद के लिए रवाना हो गए।

Ghaziabad Crime News: करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सूरजपाल सिंह अम्मू के बड़े बेटे अनिरुद्ध राघव की मौत ने हर किसी को हिला दिया। मौत की खबर जिसने सुनी, स्तब्ध रह गया। हर किसी के मुख से यही निकला हंसते-खेलते परिवार में अचानक ऐसा क्या हो गया? कुछ लोग सूचना मिलते ही गाजियाबाद के लिए रवाना हो गए। अम्मू के निवास स्थान एमजी रोड स्थित एस्सेल टावर सोसायटी से लेकर शहर में हर जगह चलती रही।

अनिरुद्ध की मौत का पता चलते ही सूरजपाल सिंह अम्मू के नजदीकी व वरिष्ठ भाजपा नेता सुमेर सिंह तंवर सहित कई लोग गाजियाबाद के लिए रवाना हो गए थे। इसी तरह राजपूत महासभा से जुड़े कई लोग भी गाजियाबाद पहुंचे। भाजपा नेता सुमेर सिंह तंवर ने कहा कि अनिरुद्ध को उन्होंने बचपन से देखा है। बहुत ही मिलनसार थे। राजपूत महासभा गुरुग्राम के अध्यक्ष सत्येंद्र सिंह चौहान ने कहा कि मौत की सूचना पर एकबारगी विश्वास ही नहीं हुआ।

स्थानीय लोगों और पुलिस का कहना है कि अनिरुद्ध की मौत का राज इन 72 घंटों में ही छिपा हुआ है, जिसके बारे में उनकी पत्नी और उनके मिलने वालों से जानकारी की जा रही है। बताया गया कि फेसबुक पर अनिरुद्ध के करीब तीन हजार फालोअर्स हैं। वह अक्सर कहा करते थे कि कोई भी लक्ष्य बड़ा नहीं। जीता वही, जो डरा नहीं। ये लाइन उन्होंने फेसबुक पर भी लिखी है।

संदिग्ध हालात में मौत, पीछे कई सवाल 

अनिरुद्ध राघव की संदिग्ध हालात में मौत अपने पीछे कई सवाल छोड़ गई है। मंगलवार की रात में अनिरुद्ध की मौत हुई तो वह अपनी पत्नी शालू के साथ घर में अकेले थे। पुलिस मामले को आत्महत्या बता रही है, जबकि अनिरुद्ध की पत्नी शालू का कहना है कि उन्हें कुछ पता नहीं है। पुलिस शालू से पूछताछ कर रही है। अब सवाल यह है कि आखिर रात में ऐसा क्या हुआ कि अनिरुद्ध की जान चली गई।

इस मामले में सूरजपाल सिंह अम्मू के करीबी करणी सेना युवा शक्ति के प्रदेश अध्यक्ष शेखर चौहान का कहना है कि अनिरुद्ध दो माह पहले ही लैंडक्राफ्ट गोल्फ लिंक सोसायटी में पत्नी शालू के साथ रहने आए थे। शेखर के अनुसार, मंगलवार को दिन में 12 बजे अनिरुद्ध ने उनसे फोन पर बात की थी और बुधवार को बिजनौर में होने वाले करणी सेना के कार्यक्रम में शामिल होने की बात कही थी।

राजपूत महासभा के मीडिया प्रभारी मुकुल प्रताप सिंह ने कहा कि अनिरुद्ध फेसबुक पर काफी सक्रिय रहते थे। बता दें कि मूल रूप से सोहना निवासी व वर्तमान में एमजी रोड स्थित एस्सेल टावर सोसायटी में रह रहे अम्मू की पहचान भाजपा के कद्दावर नेताओं में है। अनिरुद्ध भी उप्र भाजपा युवा मोर्चा में सक्रिय थे। वह करणी सेना को मजबूत बनाने में अपने पिता का सहयोग कर रहे थे।

अनिरुद्ध की मौत से सभी स्तब्ध

सूरजपाल सिंह अम्मू के बेटे अनिरुद्ध राघव काफी मिलनसार व्यक्ति थे। वह अपनी खुशियों को प्राय: इंटरनेट मीडिया पर साझा करते रहते थे। एक माह पहले ही 10 फरवरी को उनकी शादी की सालगिरह थी। उस वक्त उन्होंने फेसबुक पर पत्नी के साथ पोस्ट शेयर करते हुए हैप्पी एनिवर्सरी लव लिखा था और दिल की इमोजी भी मैसेज के साथ जोड़कर शेयर की थी। लोग दोनों की जोड़ी सलामत रहने की ईश्वर से प्रार्थना कर रहे थे।

महज तीन दिन पहले भी एक पोस्ट पत्नी की फोटो के साथ फेसबुक पर शेयर कर अनिरुद्ध ने लिखा था कि अगर आपको सपोर्ट करने के लिए आपके साथ सही व्यक्ति हो, तो कुछ भी संभव है। यानी की तीन दिन पहले तक सबकुछ ठीक-ठाक था। लेकिन बुधवार को जब अनिरुद्ध की मौत की सूचना मिली, तो सुनने वाले सभी सन्न रह गए।साभार-दैनिक जागरण

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *