ताज़ा खबर :
prev next

प्रेग्नेंट गाय का आपरेशन कर 71 किलो कचड़ा निकाला गया, लगभग 4 घण्टे तक आपरेशन चलता रहा

पढ़िए दी लॉजिकली की ये खबर…

प्लास्टिक का कचरा न केवल हम मनुष्यों बल्कि धरती व जलीय दोनों प्रकार के जीवों को भी प्रभावित करता है। यूनाइटेड नेशंस(United Nations-UN) की एक रिपोर्ट के मुताबिक पूरी दुनिया में हर साल 500 बिलियन प्लास्टिक बैगस्(Plastic bags) इस्तेमाल के बाद सड़कों पर फेंक दिये जाते हैं जिसे अनजाने में खाकर बेजुबान पशु मृत्यू का ग्रास बन जाते हैं।

आंकड़ों के मुताबिक हम इंसानों द्वारा फैलाये गये प्लास्टिक कचरे को खाने की वजह से हर साल तकरीबन एक हज़ार गायों की मौत हो जाती है। हाल ही में हरियाणा के फरीदाबाद(Faridabad, Haryana) से एक बेहद ह्रदय विदारक घटना सामने आयी है जिसमें ऑपरेशन के दौरान एक गाय के पेट में 71 किलो से भी ज़्यादा प्लास्टिक, नाखून, मार्बल और अन्य प्रकार का कचरा पाया गया। दुखद बात यह है कि वह गाय गर्भवती(Pregnant) थी लेकिन कचरा खाने की वजह से उसके शरीर में शावक पैदा करने का स्थान पूरी तरह रिक्त न रह सका और वह गाय व उसका बछड़ा दोनों दर्दनाक मृत्यू का शिकार बन गये।

4 घंटे तक ऑपरेशन चला इस गाय का

कुछ समय पहले ये गाय एक सड़क दुर्घटना का शिकार हो गई थी। पीपुल फॉर एनिमल ट्रस्ट, फरीदाबाद (Peoples for Animal Trust) ने इस गाय को बचाने की अनेकों कोशिशें की जिसमें उसे बचा तो लिया गया। लेकिन इसी दौरान डॉक्टरों ने ये भी पाया कि गाय न केवल गर्भवती है बल्कि उसको प्रेग्नेंसी रिलेटिड कई समस्याएं हैं। 21 फरवरी को 4 घंटे चले गाय के इस ऑपरेशन में ये तथ्य निकलकर सामने आया कि गाय के पेट में प्लास्टिक, नाखून, मार्बल समेत कई प्रकार का कचरा है जिसे बाहर निकाला गया।

पेट में 71 किलो प्लास्टिक बछड़े को बढ़ने के लिये स्पेस नही दे रहा था

गाय के पेट में 71 किलो से भी ज़्यादा प्लास्टिक, नाखून और अन्य प्रकार का कचरा होने के कारण उसके बच्चे को पेट में पूरी तरह से डेवलप यानि बढ़ने के लिए जगह नही मिल रही थी। जिसके कारण पेट में ही उस बच्चे की मौत हो गई। तीन दिन बाद गाय मां ने भी दम तोड़ दिया।

इतना कचरा आजतक किसी गाय के पेट में नही मिलाः रवि दुबे

पीपुल फॉर एनिमल ट्रस्ट के प्रेसिड़ेट रवि दुबे(Ravi Dubey) बताते हैं – “हमने बच्चे की डिलवरी कराने की कोशिश की लेकिन गाय के पेट में जगह न होने के कारण वो पूणर्तया विकसित नही था और उसकी मौत हो गई। 13 वर्षों के अपने एक्सपीरियंस में मैंने आजतक किसी गाय के पेट से इतना कचरा नही निकलते देखा”

आईएफएस ऑफिसर ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है

आईएफएस ऑफिसर प्रवीन अंगुसामी(Praveen Angusamy) ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा है कि – “इस गाय के पेट में 71 किलो प्लास्टिक, नाखून और अन्य तरीके का कचरा मिला, जिसकी वजह से इसके पेट में बच्चा पालने की जगह नही बची और वह मर गई” जिस पर यूज़र्स ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि – “ये बेहद दुःखद घटना है और हम ही इस गाय व उसके बच्चे की मौत के ज़िम्मेदार हैं”

कितने दुख की बात है कि आज प्लास्टिक हमारे जीवन की एक अंतहीन वास्तविकता बन गई है, मानों उसका प्रयोग करे बिना हमारा एक दिन गुज़ारा नही होता। उस प्लास्टिक का हम इतना कचरा सड़कों पर छोड़ देते हैं कि वो बेजुबान जानवरों की मौत का कारण बन जाता है। वहीं, एक तरफ हम जानवरों के प्रति अपना ममत्व दिखाने और गौसेवा का ढ़ोग करते हैं, और तो और गाय को मां का दर्जा देते हैं। फिर उसी मां को कचरा खाने के लिए सड़कों पर लावारिस क्यों छोड़ दिया जाता है? हमारी तरह ही ये जानवर भी धरती पर ईश्वर द्वारा बनाई गये एक प्राणी हैं। The Logically अपने सभी पाठकों से इस लेख के माध्यम से अनुरोध करता है कि आप सभी प्रण लें कि अगली बार सड़कों पर प्लास्टिक वेस्ट नही फेकेंगे।साभार-दी लॉजिकली

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *