ताज़ा खबर :
prev next

जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने जनपद वासियों से किया आह्वान, कोरोना को लेकर सभी समस्याओं का निराकरण करने के लिए इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम का उठाएं लाभ

  • कोविड-19 को लेकर जनपद में स्थापित इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम के माध्यम से कोविड को लेकर जनता की निरंतर समस्याओं का किया जा रहा है निराकरण                                                           
  • प्रत्येक दिन लगभग 120 कॉल्स इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम पर हो रही है प्राप्त

गाजियाबाद। जनपद में कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए सभी जनपद वासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित करने के उद्देश्य से जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के नेतृत्व में विभिन्न स्तर पर कार्यवाही सुनिश्चित की जा रही है। जिलाधिकारी ने आज इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया गया एवं आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किए गए। इस अवसर पर जिला अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि एक पटल पर कोरोना से संबंधित सभी समस्याओं का निराकरण संभव हो सके इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए जिला प्रशासन की ओर से इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम का संचालन किया जा रहा है।

कंट्रोल रूम के नंबर पर प्रतिदिन लगभग 120 कॉल्स कोविड-19 को लेकर प्राप्त हो रही हैं। जन सामान्य के द्वारा कोरोना महामारी को लेकर अपनी समस्याएं संबंधित कंट्रोल रूम नंबर पर दर्ज कराई जा रही हैं। जिला प्रशासन, पुलिस, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी गण तथा अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों के द्वारा प्राप्त शिकायतों का निराकरण प्रतिदिन बहुत ही गंभीरता के साथ सुनिश्चित किया जा रहा है ताकि सभी जनपद वासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित बनाया जा सके।

जिलाधिकारी ने समस्त जनपद वासियों का आह्वान किया है कि कोविड-19 को लेकर कोरोनावायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के संबंध में तथा कोरोना के संबंध में अन्य किसी भी प्रकार की समस्याओं को संबंधित इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम के नंबर पर दर्ज कराया जा सकता है ताकि संबंधित शिकायत का निराकरण तत्काल प्रभाव से संबंधित विभागीय अधिकारियों के माध्यम से सुनिश्चित कराया जा सके। कोरोना को लेकर उन्होंने संबंधित नंबर का अधिकतम लाभ उठाने के लिए जनता का आह्वान किया है। जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान निर्देश दिए कि अब कोविड-19 से संबंधित जो भी दिशा निर्देश प्राप्त होंगे उनकी प्रतिदिन प्रातः 10:00 कंट्रोल रूम में समीक्षा की जाएगी।

जिलाधिकारी ने कंट्रोल रूम के लिए मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल को प्रभारी बनाया है। इसी प्रकार डॉक्टर से संबंधित बिंदुओं का अनुपालन के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दायित्व सौंपा गया है एवं कंटेनमेंट जोन से संबंधित निर्देशों का अनुपालन कराने के लिए अपर जिला अधिकारी नगर को जिम्मेदारी सौंपी गई है। जनपद में बढ़ते कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत जिलाधिकारी ने समस्त इंसिडेंट कमांडर को निर्देश दिए हैं कि वह अपने-अपने क्षेत्रों में स्थित समस्त प्राइवेट अस्पतालों, नर्सिंग होम में बेड आरक्षित रखने हेतु अस्पताल प्रबंधन से समन्वय बनाए रखें। जिलाधिकारी ने कोविड-19 संजय नगर एल-2 अस्पताल का प्रभारी नगर मजिस्ट्रेट को बनाया है तथा कोविड एल-1 संतोष मेडिकल कॉलेज का प्रभारी उप जिलाधिकारी सदर को बनाया है।

इसके अलावा जिलाधिकारी ने कोविड-19 वैक्सीनेशन के संबंध में अपर जिलाधिकारी भू0अ0 को प्रभारी बनाया है तथा टेस्टिंग ट्रीटमेंट का दायित्व अपर जिलाधिकारी प्रशासन को दिया है।

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

 हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *