ताज़ा खबर :
prev next

गाजियाबाद: कोरोना से बदतर हुये हालात, श्मशान घाट पर टोकन सिस्टम लागू किया गया

पढ़िए एबीपी गंगा की ये खबर…

कोरोना की विभिषिका किस कदर खतरनाक हो चुकी है, इसका नजारा गाजियाबाद श्मशान घाट में देखने को मिला. यहां शवों के आने का सिलसिला नहीं थम रहा है.

गाजियाबाद: अगर आप अभी भी कोरोना नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं, तो हो जाएं सावधान… क्योंकि अब जो हम जिस खबर के बारे में बताने जा रहे हैं, हो सकता है उस खबर को देखकर आपकी रूह कांप जाए. दिल्ली एनसीआर में लगातार कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती नजर आ रही है. जिसके वजह से अब श्मशान घाटों पर भी शवों की संख्या बढ़ने लगी है. गाजियाबाद के श्मशान घाट के हालात कुछ ऐसे ही हैं. हिंडन नदी के किनारे ये बसा हुआ है. यहां पर रोजाना कोरोना वायरस से मरने वालों की तादाद बढ़ती नजर आ रही है. अभी हाल ही में ही पिछले कुछ महीनों से यहां कोरोना वायरस से मरने वालों की तादाद कम हो गई थी, लेकिन अब हालात फिर से बदल चुके हैं. श्मशान घाट पर अब शवों के आने का सिलसिला शुरू हो चुका है.

कोरोना वाले शवों के लिये अगल व्यवस्था

एबीपी गंगा ने श्मशान घाट के आचार्य मनीष पंडित से बात की तो उन्होंने बताया कि नॉर्मल डेड बॉडीज और कोरोना डेड बॉडीज के लिए अलग-अलग व्यवस्था की गई है. अभी सुबह-सुबह ही एक शाव आया था. पूरे दिन भर यहां ऐसे ही हालात बने रहते हैं. ऐसे में हमने लोगों को जागरूक करने के लिए अलग-अलग व्यवस्था की है. जिसमें नॉर्मल डेड बॉडी का अंतिम संस्कार अलग जगह किया जा रहा है, तो वहीं कोरोना से मरने वालों का अंतिम संस्कार विद्युत शॉक के द्वारा किया जा रहा है.

श्मशान घाट पर टोकन सिस्टम

हिंडन श्मशान घाट पर अब टोकन सिस्टम शुरू कर दिया गया है. ऐसे में जो भी लोग श्मशान घाट आ रहे हैं. वह पूरी तरह से अपने आप को मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था कर और सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए आएं ताकि कोरोना वायरस का खतरा ज्यादा ना बढ़ सके. साभार-एबीपी गंगा

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *