ताज़ा खबर :
prev next

दिल्ली-महाराष्ट्र में लॉकडाउन की आहट? ट्रेन और बसों में भर-भर के घर वापस लौट रहे हैं मजदूर

पढ़िए हिन्दुस्तान  की ये खबर…

दिल्ली और महाराष्ट्र से कोरोना के हर रोज रिकॉर्ड संख्या में केस सामने आ रहे हैं। लोगों को अब लॉकडाउन का डर सताने लगा है। कोरोना की दूसरी लहर में अस्पताल भर गए हैं तो वहीं रेलवे स्टेशनों पर भी पैर रखने की जगह नहीं है। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच एक बार फिर से लॉकडाउन लगाए जाने की आहट है और इससे खौफजदा मजदूर जल्द से जल्द अपने-अपने घरों तक पहुंचना चाहते हैं। यही कारण है कि महाराष्ट्र के कई रेलवे स्टेशनों पर कतारें लगी हैं तो वहीं दिल्ली के बस अड्डों पर भी भारी भीड़ देखने को मिल रही है।

कोरोना ने एक बार फिर मजदूरों पर कहर बरसाना शुरू कर दिया है। रोजगार छीन जाने के डर से मजदूर इन शहरों को छोड़कर अपने घरों की तरफ रवाना हो रहे हैं। दिल्ली में कई जगहों पर मजदूरों को अपना सामान कंधों पर लादकर बच्चों के साथ बस अड्डों पर गांव जाते हुए देखा गया। कोविड-19 के बढ़ते मामलों पर लगाम कसने के लिए महाराष्ट्र में संपूर्ण लॉकडाउन लगाए जाने की चर्चा के बीच मुंबई में बाहर जाने वाली रेलगाड़ियों में पिछले सप्ताहांत से भीड़भाड़ बढ़ गई है। यह जानकारी सोमवार को रेलवे के सूत्रों ने दी।

बस अड्डों और रेलवे स्टेशन पर भीड़

आनंद विहार बस अड्डे पर दिल्ली से अपने गांव जा रहे एक मजदूर ने कहा, “जिस तेजी से मामले बढ़ रहे हैं उससे यह साफ होता है कि लॉकडाउन लगाया जाएगा। इसी वजह से मैं घर जा रहा हूं।” वहीं महाराष्ट्र से अपने घर लौट रहे एक मजदूर ने कहा, लोगों के लिए मेडिकल सुविधाएं कम हैं और टीकाकरण भी धीमा चल रहा है। उन्होंने लॉकडाउन की स्थिति की आशंका जताई है इसलिए कुछ समय के लिए घर वापस आने का फैसला किया।”

बहरहाल, रेल प्रशासन ने गर्मी के मौसम को भीड़ का कारण बताया जिस दौरान बड़ी संख्या में लोग अपने गृह स्थानों की यात्रा करते हैं। सूत्रों ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा इस महीने की शुरुआत में कोविड-19 को लेकर नई पाबंदियां लगाने के बाद से ही बिहार जाने वाली रेलगाड़ियों में भीड़ बढ़ गई है, लेकिन सप्ताहांत में भीड़ ज्यादा देखी गई।

कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार द्वारा संपूर्ण लॉकडाउन लगाने पर विचार करने के कयास लगाए जा रहे हैं। लोकमान्य तिलक टर्मिनस पर तैनात मध्य रेलवे के एक कर्मचारी ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से मुंबई में स्टेशन पर यात्रियों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है। उन्होंने कहा,‘पिछले कुछ दिनों से रेलगाड़ियों में काफी भीड़ है।’

हर रोज रिकॉर्ड संख्या में आ रहे केस

राजधानी दिल्ली में सोमवार को कोरोना के 11491 नए संक्रमित मामले सामने आए। दिल्ली में यह एक दिन में अभी तक सर्वाधिक मरीज मिलने का रिकॉर्ड है। सोमवार को दिल्ली में 7665 मरीजों को छुट्टी दी गई। 72 मरीजों ने कोरोना के कारण दम तोड़ दिया। इस हिसाब से दिल्ली में हर घंटे करीब औसतन 479 कोरोना संक्रमित मिले हैं और हर घंटे में तीन मरीजों ने दम तोड़ दिया।

महाराष्ट्र में सोमवार को 51,651 केस सामने आए हैं। राजधानी मुंबई में भी कोरोना केस 7 हजार से कम हैं। एक दिन पहले महाराष्ट्र में जहां 63 हजार से अधिक केस मिले थे तो मुंबई में भी करीब 10 हजार मरीज मिले थे।साभार-हिन्दुस्तान

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *