ताज़ा खबर :
prev next

यूपी में निजी कोविड अस्पतालों में बेड व जांच के ल‍िए दरें न‍िर्धार‍ित, तीन श्रेणियों में बांटे गए जिले

पढ़िए दैनिक जागरण की ये खबर…

सुपर स्पेशियलिटी इलाज की सुविधा देने वाले निजी अस्पतालों व जांच करने वाली प्राइवेट लैब के लिए दरें निर्धारित की गई हैं। प्राइवेट अस्पताल व लैब द्वारा मनमानी फीस वसूलने के आरोप लगने के बाद यह कदम उठाए गए हैं।

लखनऊ, [राज्य ब्यूरो]। प्रदेश में कोरोना के तेजी से बढ़ रहे संक्रमण के कारण अब जांच व उपचार की सुविधाओं को बढ़ाने पर काफी जोर दिया जा रहा है। सुपर स्पेशियलिटी इलाज की सुविधा देने वाले निजी अस्पतालों व जांच करने वाली प्राइवेट लैब के लिए दरें निर्धारित की गई हैं। प्राइवेट अस्पताल व लैब द्वारा मनमानी फीस वसूलने के आरोप लगने के बाद यह कदम उठाए गए हैं।

उत्‍तर प्रदेश में जिलों को ए, बी व सी श्रेणी में विभाजित किया गया है। प्राइवेट लैब में जाकर अगर कोई व्यक्ति जांच करवाता है तो उससे 700 रुपये लिए जाएंगे। अगर घर में सैंपल लेने लैब कर्मी आ रहा है तो 900 रुपये लिए जाएंगे। उधर राज्य सरकार के विहित अधिकारी द्वारा निजी अस्पताल में जांच के लिए सैंपल भेजा जा रहा है तो वह अधिकतम 500 रुपये शुल्क ले सकेंगे। वहीं आइसीयू में वेंटिलेटर युक्त बेड पर भर्ती मरीज से एक दिन का अधिकतम 18 हजार रुपये शुल्क ले सकेंगे। ए श्रेणी में जिन जिलों को शामिल किया गया है उनमें लखनऊ, कानपुर, आगरा, वाराणसी, प्रयागराज, बरेली, गोरखपुर, मेरठ, गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद शामिल है। वहीं बी श्रेणी के जिलों में मुरादाबाद, अलीगढ़, झांसी, सहारनपुर, मथुरा, रामपुर, मीरजापुर, शाहजहांपुर, अयोध्या, फीरोजाबाद, मुजफ्फरनगर और फरुZखाबाद शामिल है।

बाकी के सभी जिले सी श्रेणी शामिल हैं। ए श्रेणी के जिलाें में इलाज का जो शुल्क लिया जाएगा उसका 80 प्रतिशत बी श्रेणी और 60 प्रतिशत सी श्रेणी के जिलों के अस्पताल ले सकेंगे। नेशनल एक्रीडिटेशन बोर्ड फार हास्पिटल एंड हेल्थ केयर प्रोवाइडर (एनएबीएच) से प्रमाणित अस्पतालों के लिए अलग शुल्क तय किया गया है और जो अस्पताल इससे प्रमाणित नहीं हैं, उनके लिए अलग शुल्क तय किया गया है। पीपीई किट का शुल्क भी बेड के शुल्क में शामिल है।

ए श्रेणी के जिलों में यह शुल्क ले सकेंगे निजी अस्पताल

अस्पताल की श्रेणी              आइसोलेशन बेड     बिना वेंटिलेटर बेड    वेंटिलेटर युक्त बेड

एनएबीएच प्रमाणित              10,000                    15,000              18,000

बिना एनएबीएच प्रमाणित         8,000                    13,000               15,000

बी श्रेणी के जिलों में यह शुल्क ले सकेंगे अस्पताल

अस्पताल की श्रेणी             आइसोलेशन बेड     बिना वेंटिलेटर बेड   वेंटिलेटर युक्त बेड

एनएबीएच प्रमाणित             8,000                 12,000                  14,400

बिना एनएबीएच प्रमाणित     6,400                  10,400                   12,000

सी श्रेणी के जिलों में यह शुल्क ले सकेंगे अस्पताल

अस्पताल की श्रेणी           आइसोलेशन बेड    बिना वेंटिलेटर बेड      वेंटिलेटर युक्त बेड

एनएबीएच प्रमाणित          6,000                  9,000                   10,800

बिना एनएबीएच प्रमाणित   4,800                 7,800                    9,000

साभार-दैनिक जागरण

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *