ताज़ा खबर :
prev next

CBSE के बाद अब UP बोर्ड की परीक्षाएं भी टली‚ विश्वविद्यालयों के Exam भी हटे पीछे

पढ़िए  आँखोंदेखी लाइव की ये खबर… 

माध्यमिक तथा उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि हाईस्कूल व इंटर की परीक्षाओं की नई तारीख 20 मई के बाद तय होगी जबकि प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं भी 15 मई तक टाल दी गई हैं।

CBSE बोर्ड के बाद अब उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद [ Uttar Pradesh Secondary Education] Council यानी यूपी बोर्ड [Up Bord exam] की परीक्षाएं भी टाल दी गई हैं। खुद डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा [ Dr. Dinesh sharma] ने बरेली में इसकी जानकारी दी। उन्होने बताया कि हाईस्कूल व इंटर की परीक्षाओं [ High school and inter examinations] की नई तारीख 20 मई के बाद तय की जाएगी। इसके अलावा प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों [UP Universities Exams Postponed] की परीक्षाएं भी 15 मई तक टाल दी गई हैं।

गुरूवार को डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा [ Deputy CM Dr. Dinesh Sharma] बरेली के एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय [MJP Ruhelkhand University] के दीक्षा समारोह के ऑनलाइन संबोधन कर रहे थे। इस दौरान उन्होने कहा कि यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं [ UP board high school and intermediate examinations] को भी 20 मई तक के लिए स्थगित किया जा रहा है। वही विश्वविद्यालयों की परीक्षाओं और ऑनलाइन कक्षाओं को 15 मई तक लिए स्थगित कर दिया गया है। उन्होने ये भी कहा कि  इसके बाद मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में बैठक कर आगे का निर्णय लिया जाएगा।

प्रदेश में इससे पहले पंचायत चुनाव के कारण यूपी बोर्ड की परीक्षाओं को टाला गया था। यूपी बोर्ड की परीक्षाओं का आयोजन पहले 24 अप्रैल से होना था। परीक्षाओं का कार्यक्रम भी तय हो गया था। इसके बाद पंचायत के चुनाव के कारण इसको आठ मई तक टाला गया। आठ मई से होने वाली सभी परीक्षा का कार्यक्रम भी तय कर दिया गया था। अब कोरोना वायरस संक्रमण के कारण इसको टाला गया है।

15 तक बंद रहेंगे स्कूल/कॉलेज

डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा के यूपी बोर्ड की हाईस्कूल तथा इंटर की परीक्षा को स्थगित करने की घोषणा के बाद ही मुख्यमंत्री ने कक्षा एक से 12 तक के सभी स्कूल व कॉलेज को लेकर भी आदेश जारी कर दिया है। प्रदेश में अब कक्षा एक से लेकर 12 तक के सभी स्कूल व कॉलेज 15 मई तक बंद रहेंगे। प्रदेश में कोरोना वायरस के के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ का बड़ा आदेश है।

यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए इस बार 56 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं ने अपना पंजीकरण कराया है। कोरोना संक्रमण के कारण परीक्षा टलने का एक बड़ा कारण माध्यमिक शिक्षा विभाग के शीर्ष अधिकारियों का भी कोरोना संक्रमित होना माना जा रहा है। उत्तर प्रदेश की अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा अराधना शुक्ला के साथ ही उत्तर प्रदेश बोर्ड के शीर्ष 19 में से 17 अधिकारी कोरोना संक्रमित हैं। बोर्ड परीक्षा की तैयारियों में लगे 19 में से 17 अधिकारी कोरोना संक्रमित होने के कारण निर्णय अधर में था। अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला के अलावा तीन विशेष सचिव, निदेशक व पांच उप निदेशक स्तर के अधिकारी कोरोना की चपेट में हैं। साभार-आँखोंदेखी लाइव

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *