ताज़ा खबर :
prev next

Covid Oxygen Shortage: अस्पतालों को ज्यादा ऑक्सीजन देने के लिए केंद्र का कदम, उद्योगों को मिलने वाली सप्लाई को किया सीमित

पढ़िए एबीपी न्यूज़  की ये खबर…

Covid Oxygen Shortage in India: अस्पतालों में ऑक्सीजन की सुचारू आपूर्ति के लिए केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सरकार ने उद्योगों को ऑक्सीजन की आपूर्ति को सीमित करके हॉस्पिटल में भेजने का निर्णय लिया है.

नई दिल्लीः कोरोना संक्रमितों के उपचार में ऑक्सीजन सिलेंडरों की कमी को देखते हुए केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सरकार ने विशेष मामलों को छोड़कर औद्योगिक कार्यों के लिये ऑक्सीजन की आपूर्ति को सीमित कर दिया है. सरकार की कोशिश है कि उद्योगों को आपूर्ति की बजाय ऑक्सीजन सिलेंडरों की सप्लाई हॉस्पिटल में किया जाए जिससे कि ज्यादा से ज्यादा मरीजों को सहायता मिल सके और उनकी जान बचाई जा सके. केंद्र सरकार का यह फैसला 22 अप्रैल से प्रभावी हो जाएगा. हालांकि नौ उद्योगों को इस प्रतिबंध से छूट दी गई है.

गृह सचिव ने लिखा खत

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला की ओर से सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखे पत्र में कहा गया है कि कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों और इस कारण उपचार के लिए आक्सीजन की मांग में बढ़ोतरी को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने यह फैसला लिया है. सरकार की ओर से गठित उच्चाधिकार प्राप्त समूह-2 ने कोरोना काल में औद्योगिक इस्तेमाल के लिए आक्सीजन आपूर्ति की समीक्षा की जिससे कि देश में आक्सीजन की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए हॉस्पिटल को दिया जा सके और ज्यादा से ज्यादा लोगों की जिंदगियां बचाई जाए.

इन राज्यों में बढ़ी ऑक्सीजन की मांग

बता दें कि हाल के दिनों में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, गुजरात, दिल्ली और उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में मेडिकल आक्सीजन की मांग बढ़ी है. ऐसे में सरकार की हर संभव कोशिश है कि हॉस्पिटलों की इस मांग को ध्यान में रखते हुए जल्द से जल्द इसे पूरा किया जाए. साभार-एबीपी न्यूज़

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!