ताज़ा खबर :
prev next

Ghaziabad Covid Hospital List: गाजियाबाद जिले को मिले 4 और कोविड हॉस्पिटल, देखें कहां कितने बेड

पढ़िए नवभारत टाइम्स की ये खबर

Ghaziabad Covid Hospitals: गाजियाबाद में अब तक 42 प्राइवेट और सरकारी कोविड अस्पताल हैं, जिनमें शुक्रवार तक 628 बेड और 26 आईसीयू बेड उपलब्ध थे। जिलाधिकारी ने बताया जनपद में और कोविड बेड बढ़ाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

हाइलाइट्स:

  • कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए गाजियाबाद प्रशासन ने चार और प्राइवेट हॉस्पिटल को कोविड मरीजों के लिए खोल दिया
  • फिलहाल इन चार अस्पतालों में 78 ऑक्सिजन सहित बेड और 24 आईसीयू बेड वेंटिलेटर के साथ आरक्षित किए गए हैं
  • एसीएमओ सुनील कुमार त्यागी बोले- जरूरत पड़ी तो और भी प्राइवेट हॉस्पिटल को कोविड के मरीजों के लिए आरक्षित किया जाएगा

गाजियाबाद। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए यूपी में गाजियाबाद प्रशासन ने शुक्रवार को चार और प्राइवेट हॉस्पिटल को कोविड मरीजों के लिए खोल दिया। फिलहाल इन चार अस्पतालों में 78 ऑक्सिजन सहित बेड और 24 आईसीयू बेड वेंटिलेटर के साथ आरक्षित किए गए हैं।

एसीएमओ सुनील कुमार त्यागी ने बताया कि अगर जरूरत पड़ी तो और भी प्राइवेट हॉस्पिटल को कोविड के मरीजों के लिए आरक्षित कर दिया जाएगा। फिलहाल उन्हें रिजर्व रखा गया है।

कहां कितने बेड?
जनपद में अब सरकारी और प्राइवेट मिलाकर कुल 42 कोविड हॉस्पिटल बना दिए गए हैं। जिनमें करीब 2977 बेड कोविड के मरीजों के लिए आरक्षित हैं।

जनपद में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए बेड नहीं होने के कारण होने वाली दिक्कतों को देखते हुए प्रशासन ने शुक्रवार को एनएच 9 स्थित कोलंबिया एशिया, राजनगर के शिवम अस्पताल, वसुंधरा स्थित प्रेम धर्म और साहिबाबाद स्थित श्रेया अस्पताल को कोविड मरीजों के लिए आरक्षित कर दिया। इनमें कोलंबिया एशिया में ऑक्सिजन सहित 21 बेड और पांच आईसीयू बेड, शिवम में 10 ऑक्सिजन बेड और पांच आईसीयू बेड, प्रेम धर्म अस्पताल में 25 ऑक्सिजन बेड और 3 आईसीयू बेड और श्रेया अस्पताल में 22 ऑक्सिजन और 10 आईसीयू बेड कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए होंगे।

दिल्ली के 452 मरीज इन अस्पतालों में ए़डमिट
एसीएमओ ने बताया कि हेल्थ विभाग द्वारा तैयार किए गए आंकड़ों के अनुसार जनपद में 2977 बेड कोरोना के मरीज के लिए आरक्षित हैं। ऑक्सिजन की सप्लाई बेहतर होने के साथ ही इनमें भी अधिक बैठ मरीजों के लिए आरक्षित कर दिए जाएंगे। एडमिट मरीजों में 452 मरीज दिल्ली में बेड ना मिलने पर वे यहां के अस्पतालों में एडमिट किए गए हैं।

ऑक्सिजन की कमी से निपटने की तैयारी
ऑक्सिजन की सप्लाई जल्द ही सुचारू होगी। एसीएमओ ने बताया कि कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के कारण ऑक्सिजन की सप्लाई में कुछ बाधा उत्पन्न हुई है। इसके लिए प्रशासन लगातार प्रयास कर रहा है कि जनपद के किसी भी अस्पताल को ऑक्सिजन की कमी ना होने पाए। ऑक्सिजन प्लांट और सप्लायर से मीटिंग की जा रही है।

कोविड मरीजों के लिए रिजर्व किए गए बेड
उम्मीद है जल्दी ऑक्सिजन की सप्लाई पूरी तरह नियमित हो जाएगी। उन्होंने बताया कि हेल्थ विभाग ने कई और अस्पतालों को भी कोविड मरीजों के लिए रिजर्व कर लिया है, यदि जरूरत पड़ी तो उन्हें भी मरीज एडमिट करने की परमिशन दे दी जाएगी। कोई भी मरीज बिना इलाज के ना रहे, इसके प्रयास किए जा रहे हैं।

628 बेड और 26 आईसीयू बेड कोविड अस्पताल में बचे
जनपद में अब तक 42 प्राइवेट और सरकारी कोविड अस्पताल हैं, जिनमें शुक्रवार तक 628 बेड और 26 आईसीयू बेड उपलब्ध थे। जिलाधिकारी ने बताया जनपद में और कोविड बेड बढ़ाने के प्रयास किए जा रहे हैं। सरकारी स्तर पर 400 बेड का एल-3 संतोष अस्पताल के अलावा एल-2 स्तर का 100 बेड वाला संयुक्त जिला चिकित्सालय, 78 बेड वाला ईएसआईसी हॉस्पिटल, और 340 बेड वाला पिलखुवा स्थित रामा मेडिकल कॉलेज संचालित है। सरकारी कोविड अस्पतालों में कुल 140 आईसीयू बेड की व्यवस्था है। ईएसआईसी अस्पताल में आईसीयू बेड की व्यवस्था नहीं है। सरकारी स्तर पर केवल रामा मेडिकल कॉलेज में 10 आईसीयू बेड ही उपलब्ध थे।

ये हैं प्राइवेट कोविड अस्पताल
यशोदा अस्पताल नेहरू नगर और कौशांबी, मैक्स अस्पताल, ली क्रेस्ट हॉस्पिटल, फ्लोरिस हॉस्पिटल, गणेश हॉस्पिटल, नरेंद्र मोहन हॉस्पिटल, गायत्री हॉस्पिटल, आलोकी हॉस्पिटल, नवीन हॉस्पिटल वैशाली, अटलांटा हॉस्पिटल, पल्मोनिक हॉस्पिटल, हीलिंग ट्री हॉस्पिटल, पैलेटिव हॉस्पिटल, चंद्रलक्ष्मी हॉस्पिटल, सुशीला हॉस्पिटल, मेधा हॉस्पिटल, नवीन हॉस्पिटल मेरठ रोड, एसआर हास्पिटल, सर्वोदय हॉस्पिटल, साईं संजीवनी हॉस्पिटल, अवंतिका हॉस्पिटल, जीवन ज्योति हॉस्पिटल, क्लीयर मेडी हॉस्पिटल, कमल हॉस्पिटल, पारस हॉस्पिटल, पन्नालाल श्यामलाल हॉस्पिटल, स्पर्श हॉस्पिटल, मीनाक्षी हॉस्पिटल, शांतिगोपाल हॉस्पिटल, संतोष स्पेशियलिटी हॉस्पिटल, नंदग्राम हॉस्पिटल, एलवाईएफ हॉस्पिटल, विनायक हॉस्पिटल हैं।

नोट: नरेंद्र मोहन हॉस्पिटल में छह, पल्मोनिक हॉस्पिटल में चार आईसीयू बेड और अटलांटा में तीन आईसीयू बेड शुक्रवार तक उपलब्ध थे। जबकि चार नए अस्पताल को परमिशन दी गई है।साभार-नवभारत टाइम्स
आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *