ताज़ा खबर :
prev next

गाजियाबाद की एक सोसाइटी में 300 से ज्यादा फैमिली कोरोना संक्रमित, RWA ने लिखा सरकार को पत्र

पढ़िए जी उत्तर प्रदेश उत्तराखंड की ये खबर…

गाजियाबाद: देश की राजधानी दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है. यहां के पॉश एरिया इंदिरापुरम स्थित आम्रपाली विलेज सोसायटी में कोरोना के करीब 300 से ज्यादा परिवार कोविड की चपेट में आ गए हैं. उत्तर प्रदेश सरकार को भेजे गए SoS में आरडब्ल्यूए ने वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए जरूरी सहायता की अपील की है.

आम्रपाली विलेज हाउसिंग सोसायटी के RWA ने लिखा यूपी सरकार को पत्र
जिले की इंदिरापुरम की आम्रपाली विलेज हाउसिंग सोसायटी के RWA ने यूपी सरकार को पत्र लिखकर बताया है कि सोसायटी में रहने वाले 300 से ज्यादा परिवार कोरोना से पीड़ित हैं.

तुरंत सहायता की जरूरत 
RWA ने सरकार को लिखे पत्र में कहा है कि यहां कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए तुरंत सहायता की जरूरत है.  RWA ने अपने पत्र में यह भी बताया कि बीते 30 दिनों के दौरान यहां कोरोना से 9 लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना से पीड़ित परिवार ऑक्सीजन और अस्पताल में बेड के मारे-मारे फिर रहे हैं.

सोसाइटी की आरडब्ल्यूए ने जिला प्रशासन से यह भी गुहार लगाई थी कि इनके सोसायटी में रहने वाले कई लोग दिल्ली में नौकरी करते हैं और रोजाना आते जाते हैं जिसकी वजह से संक्रमण और तेजी से फैल रहा है. कृपया सोसाइटी को सील कर दिया जाए.

इंदिरापुरम न्याय खंड स्थित आम्रपाली विलेज सोसाइटी सील
जिसके बाद इंदिरापुरम न्याय खंड स्थित आम्रपाली विलेज सोसाइटी को सील कर दिया गया है. वही जरूरी सेवाएं सोसाइटी में सुचारू रहेंगी लेकिन लोगों का सोसाइटी में आना जाना बंद कर दिया गया है. बता दें कि सोसाइटी में करीब 1002 फ्लैट है. सोसाइटी में लगातार संक्रमण बढ़ रहा था जिसके चलते सोसाइटी को सील कर दिया गया है.

10 अप्रैल को सोसाइटी में करीब 20 कोविड केस थे. लेकिन यह संख्या तेजी से बढ़ गई. 21 अप्रैल तक 120 लोग कोरोना पॉजिटिव टेस्ट हुए. 4 मई तक यह संख्या 350 के करीब पहुंच गई.साभार-जी उत्तर प्रदेश उत्तराखंड

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *