ताज़ा खबर :
prev next

Meerut: गांवों में भी कहर बरपा रहा है कोरोना‚ रोजाना हो रही हैं दर्जनों मौत‚ स्वास्थय विभाग के पास नही है इनका कोई रिकार्ड

पढ़िए  आँखोंदेखी लाइव की ये खबर….

Corona infection also reached in villages- गांवों में रोजाना कई सौ लोग बिमार हो रहे हैं। इनमें से कई दर्जन लोगों की मौते रोजाना हो रही है। हालांकि इन मौतों का कोई रिकार्ड नही है।

Meerut news: देश में कोरोना संक्रमण [ Corona infection] के चलते चारों तरफ हाहाकार मचा हुआ है। हर दिन लाखों लोग काेरोना संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। जबकि सरकारी आंकडों के अनुसार करीब 4 हजार से ज्यादा लोगों की मौत भी रोजाना हो रही है। इस बीच चिंता की बात ये है अब कोरोना का कहर शहरों के बाद गांवों तक भी पहुंच गया है। Meerut की बात करें तो जनपद का देहात क्षेत्र [ Countryside ] भी पूरी तरह से काेरोना की चपेट में आ चुका है।

गांवों में रोजाना कई सौ लोग बिमार हो रहे हैं। इनमें से कई दर्जन लोगों की मौते रोजाना हो रही है। हालांकि इन मौतों का कोई रिकार्ड नही है। कोरोना संक्रमण की चपेट में सबसे ज्यादा प्रभावित मेरठ के रोहटा‚ जानी‚ मवाना‚ और रजपुरा ब्लॉक के गांव हुएं है। यहां संक्रमण तेजी से फैल रहा है।

स्वास्थ विभाग के पास नही है गांवों के लिए समय

देहात में कोरोना संक्रमण से हो रही मौतों पर स्थानीय स्वास्थ्य विभाग अंजान बना हुआ हैं। गंभीर मरीजों को अस्पतालों में भर्ती करना युद्ध जीतने के सामान है। वही ऑक्सीजन के अभाव में भी लोगों की सांसे टूट रही हैं। जानी क्षेत्र के पांचली गांव में पिछले कुछ दिनों में ही दर्जनों मौत हो चुकी हैं। चिंता बात ये है कि इनमें से किसी की कोरोना जांच नही कराई गई है। लेकिन लोगों का कहना है सभी कोरोना के लक्षण देखे गए हैं।

यही हाल जानी ब्लॉक के अन्य गांवों रसुलपुर धौलडी, जानी खुर्द, सिवाल खास, जानी कंला आदि का भी है। यहां कई लोगों की रोजाना मौत रही है। हैरानी की बात ये है कि इन मौतों को स्वास्थय विभागर कोरोना संक्रमण से होना बता रहा हैं जबकि इनमें से किसी की भी कोरोना जांच नही हुई है। पांचली निवासी जहारिंया सिंह ने बताया कि गांव में करीब दो दर्जन लोगो को पहले हल्का बुखार फिर गले में दर्द हुआ और तीन से चार दिन में मौत हो गई।

गांव में हुई मौतों में जिनमें बुजुर्ग ही नही कई युवा भी हैं। जहारिंया सिंह ने स्थानीय स्वास्थ्य विभाग पर कडी नाराजगी जाहिर कर कार्यवाही की मांग की हैं। वही रसुलपुर धौलडी में जिला पंचायत प्रत्याशी अनीसा, पूर्व जिला पंचायत प्रत्याशी इकबाल अहमद सहित दर्जनों मौतें कोरोना जैसे लक्षण के बाद मौत हो गयी।

स्थानीय कस्बे में राजीव कुमार,लाला,सिसौला बिजली वाले सहित दर्जनों मौतों को ग्रामीण कोरोना से मौत साबित कर रहे हैं। वही जानी क्षेत्र में हो रही मौतों से स्थानीय स्वास्थ विभाग अंजान बना हुआ हैं। पांचली सीएचसी प्रभारी से फोन पर बातचीत का प्रयास किया गया लेकिन फोन रिसीव नही हो पाया।

ये हाल केवल जानी ब्लॉक है लेकिन जनपद सभी ब्लॉकों के गांवों में कोरोना जमकर कहर बरपा रहा है। रोजाना कई दर्जन मौतें हो रही हैं। खास बात ये हैं कि गांवों में हो रही इन मौतों को प्रशासन के पास कोई रिकार्ड ही नही है। साभार-आँखोंदेखी लाइव

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!