ताज़ा खबर :
prev next

CM Yogi Adityanath in Saharanpur: सहारनपुर में बोले सीएम योगी- इस वजह से UP में नहीं लगाया संपूर्ण लाकडाउन

पढ़िए  दैनिक जागरण की ये खबर

CM Yogi Adityanath in Saharanpur मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार दोपहर लगभग पौने दो बजे सहारनपुर पहुंच गए। बैठक में सीएम योगी से सहारनपुर मेडिकल काजेज बनाने की मांग की गई। वहीं सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने प्रेस वार्ता के दौरान संपूर्ण लाकडाउन न लगाने की वजह बताई।

सहारनपुर, जेएनएन। CM Yogi Adityanath in Saharanpur: कोरोना के खिलाफ जंग में सीएम योगी आदित्‍यनाथ सोमवार को मुजफ्फरनगर में निरीक्षण करने के बाद सहारनपुर पहुंचे। यहां पर उन्‍होंने कहा कि यूपी में एक्टिव केस कम हुए हैं। 5 मई से गांवों की भी स्कैनिंग हो रही है। कहा कि मेडिकल सुविधा, होंम आइसोलेशन से इलाज दिया जा रहा है। कहा कि यूपी के माडल को डब्‍लूएचओ ने सराहा है। अन्य राज्य भी यूपी का अनुसरण कर रहे हैं। आक्सीजन में प्रदेश आत्मनिर्भर बनने जा रहा है। 300 नए प्लांट यूपी में लगने की तैयरी हो रही है। सहारनपुर में ही अकेले 11 नए प्लांट लगेंगे। 1 करोड़ लोगों को यूपी में वैक्सीन उपलब्ध कराई गई है। 18 से 44 साल के लोगों को प्रदेश सरकार वैक्सीन लगवा रही है। सहारनपुर में 13 हजार युवाओं को वैक्सीन लग चुकी है।

इस वजह से नहीं लगाया संपूर्ण लाकडाउन 

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने प्रेस वार्ता के दौरान संपूर्ण लाकडाउन न लगाने की वजह बताई। उन्‍होंने कहा कि अर्थ व्यवस्था को देखते हुए हमने कोरोना कर्फ्यू लगाया है, यह सम्पूर्ण लाकडाउन नहीं है। आवश्यक सेवाएं चालू हैं। मजदूरों को समस्‍या न आए इसके लिए उद्योग धंधे व कारोबार चालू हैं। कहा कि हमारा मकसद परेशानी भी न हो, भीड़ भी न हो साथ ही भुखमरी की भी समस्‍या न आए। वहीं इसके लिए कम्युनिटी किचिन की व्‍यवस्‍था की गई है। सरकारी अस्पतालों में उपचार के साथ भोजन मिल रहा है। निशुल्क खाद्यान वितरण शुरू किया गया है। तीसरे फेज की तैयारी हमने शुरू कर दी है। बच्चों के लिए icu निर्माण शुरू हो गया है। मेडिकल कॉलेज में 100 बेड, जिला अस्पताल में 25 बेड का आईसीयू बन रहा है। पोस्ट कोविड इंफेक्शन हमारी चिंता है इसके लिए अलग अस्पताल को चयनित किया गया है। इस वार्ड में पोस्ट कोविड समस्याओं का उपचार किया जाएगा। 

ब्‍लैक फंगस को लेकर सरकार गंभीर 

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि कोरोना के बाद ब्‍लैक फंगस को लेकर सरकार गंभीर है। इसे लेकर किसी तरह की भी लापरवाही नहीं होगी। उन्‍होने क‍हा कि ब्‍लैक फंगस के अलावा शुगर व अन्‍य बीमारियों के लिए सुविधाएं उपलब्‍ध कराई जा रही हैं। हर जिले में इन समस्याओं के लिए वार्ड बनाया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश में केस घट रहे हैं, रिकवरी तेज हो गई है।

मेडिकल कालेज को एम्स का दर्जा दिये जाने की मांग

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना काल में जनपद की स्वास्थ्य सेवाओं व विकास कार्यों तथा मौजूदा हालात को लेकर जिले के जनप्रतिनिधियों से बैठक की। इस बैठक के दौरान जिले के सभी भाजपा प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री के समक्ष एकमत से मेडिकल कालेज को एम्स का दर्जा दिलाए जाने की मांग की। साथ ही मौजूदा स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति असंतुष्टि जताई। इस दौरान भाजपा के महानगर अध्यक्ष राकेश जैन ने मीडियाकर्मियों व उनके परिजनों को कोरोना वैक्सीन प्राथमिकता के आधार पर लगाए जाने की मांग का पत्र दिया। अलग कक्ष में मुख्यमंत्री के साथ चल रही बैठक में गन्ना मंत्री सुरेश राणा, आयुष मंत्री डा. धर्म सिंह सैनी, कैराना सांसद प्रदीप चौधरी, महापौर संजीव वालिया, विधायक देवेंद्र निम, विधायक चौधरी किरत सिंह, विधायक कुंवर बृजेश सिंह मौजूद रहे।

निरीक्षण के दौरान योगी बोले- आप जिम्मेदार हो, जिम्मेदारी से काम करो

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रत्येक अधिकारी और कर्मचारी से बात की। उनका हौसला बढ़ाया। यहीं से बैठकर कोरोना को वह लोग कंट्रोल कर सकते हैं। यहां की लापरवाही सबसे खतरनाक साबित हो सकती है। इसलिए जिम्मेदारों की तरह जिम्मेदारी निभाएं और प्रत्येक मरीज को बेहतर उपचार दिलाए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वास्थ्य विभाग वाले भाग में पहुंचकर कहा कि डाक्टर इस समय दिल से मरीजों का उपचार कर रहे हैं। उन्हें पूरा विश्वास है कि यहां पर ड्यूटी देने वाले डाक्टर और अन्य कर्मचारी कतई लापरवाही नहीं करेंगे। बता दें कि कोविड कमांड एवं कंट्रोल सेंटर के बारे में जिलाधिकारी अखिलेश सिंह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पूरी जानकारी दे रहे थे। सर्किट हाउस में अधिकारियों व जनप्रतिनिधि के साथ बैठक में सीएम ने जरूरी दिशा निर्देश दिए। उन्‍होंने कोरोना संबंधी तैयारियों का भी जायजा लिया। सीएम ने इस दौरान अधिकारियों से कोरोना की शहर में स्थिति के बारे में जानकारी ली।

होम आइसोलेशन वालों का भी रखे ध्यान : सीएम कोविड सेंटर के दौरान उन्होंने यहां पर तैनात कर्मचारियों और अधिकारियों से कहा कि कोविड सेंटर में अधिकतर होम आइसोलेशन के मरीजों और उनके स्वजनों के फोन आते हैं। इसलिए होम आइसोलेशन के मरीजों का अधिक ख्याल रखा जाए। यदि किसी को घर पर आक्सीजन की जरूरत पड़ रही है तो उसे तत्काल मुहैया कराई जाए। किसी भी मरीज को कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए।

पौने दो बजे पहुंचे सीएम योगी 

मुजफ्फरनगर में निरीक्षण करने के बाद मुख्यमंत्री सहारनपुर पहुंचे। उनका हेलीकाप्टर करीब पौने दो बजे पुलिस लाइन के हेलीपैड पर उतरा। यहां पर पहले से ही भाजपा नेता एवं मंत्री सुरेश राणा, मंत्री धर्मसिंह सैनी, जिलाध्यक्ष महेंद्र सैनी, पूर्व विधायक राजीव गुंबर, पूर्व सांसद राधव लखनपाल, देवबंद विधायक कुंवर बृजेश सिंह मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने कोविड सेंटर का निरीक्षण कर कमिश्नर, डीएम और एसएसपी को निर्देश दिए कि कोविड सेंटर में आने वाली हर समस्या व शिकायत पर तत्काल प्रभाव से कार्रवाई होनी चाहिए।

गन्ना विकास मंत्री सुरेश राणा ने व्‍यवस्‍थाओं का लिया जायजा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सर्किट हाउस में होने वाली बैठक के मद्देनजर प्रदेश चीनी एवं गन्ना विकास मंत्री सुरेश राणा ने सर्किट हाउस पहुंच वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। कमिश्नर एवी राजमौलि, डीआईजी उपेंद्र कुमार अग्रवाल, जिलाधिकारी अखिलेश सिंह समेत पूरा प्रशासनिक अमला सर्किट हाउस में जमा है। गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने व्यवस्थाओं को लेकर सभी अधिकारियों से बात की।

भीम आर्मी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष को धरना स्थल पर किया नजरबंद

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथा के सहारनपुर दौरे के दौरान उन्हें काले झंडे दिखाने की घोषणा करने वाले भीम आर्मी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मंजीत नौटियाल को पुलिस प्रशासन ने बेहट स्थित रविदास मंदिर के आसपास फोर्स लगा उन्हें वहीं पर नजरबंद कर दिया है ताकि वह सहारनपुर न जा सकें। साभार-दैनिक जागरण

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *