ताज़ा खबर :
prev next

कोरोना पर केंद्र के फील गुड फैक्ट:देश में रिकवरी के मामले में पॉजिटिव ट्रेंड; सिर्फ 1.8% आबादी संक्रमित हुई, महाराष्ट्र-UP समेत 6 राज्यों में केस घट रहे

पढ़िए  दैनिक भास्कर की ये खबर

फोटो वाराणसी का है। यहां वैक्सीनेशन सेंटर में टीका लगवाने के लिए लंबी लाइन लगी है।

देश में कोरोना की लहर अब धीमी पड़ रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, रिकवरी में क्लियर पॉजिटिव ट्रेंड दिखाई दे रहा है। एक्टिव केस में भी कमी आ रही है। सिर्फ 8 राज्य ऐसे हैं, जहां रोज 10,000 से ज्यादा मामले आ रहे हैं। 26 राज्यों में नए केस से ज्यादा संख्या में मरीज रिकवर हो रहे हैं। सिर्फ 8 राज्य ऐसे रह गए है, जहां 1 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं। देश में मंगलवार को पॉजिटिविटी रेट 14.10% दर्ज की गई है। सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र, यूपी, दिल्ली, बिहार, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में केस और पॉजिटिविटी रेट लगातार कम हो रहे हैं।

दूसरे देशों के मुकाबले बेहतर हालात
स्वास्थ्य मंत्रालय के ज्वॉइंट सेक्रेटरी लव अग्रवाल ने मंगलवार को कहा कि दुनिया के दूसरे देशों के मुकाबले हम बेहतर हालात में है। देश की कुल आबादी का 1.8% हिस्सा ही अब तक इस बीमारी से प्रभावित हुआ है। हम संक्रमण का प्रसार 2% से कम आबादी में रोकने में सक्षम हैं।

उन्होंने बताया कि 3 मई को देश में रिकवरी का औसत 81.7% था। यह बढ़कर 85.6% हो गया है। देश में पिछले 24 घंटे में 4,22,436 लोग रिकवर हुए हैं, जो कि देश में अब तक की सबसे ज्यादा रिकवरी है। 15 दिन से केस लगातार काम हो रहे हैं। केरल में बीते 24 घंटे में 99,651 लोग कोरोना से रिकवर हुए हैं।

7 मई के बाद 27% केस घटे
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में हर दिन औसतन 18 लाख से ज्यादा टेस्ट हो रहे हैं। लगातार टेस्टिंग बढ़ाई जा रही है। बीते कुछ समय से कंटेनमेंट जोन पर फोकस रखा गया। इसका असर दिख रहा है। देश में पिछले 24 घंटों में 2.63 लाख से ज्यादा केस दर्ज किए गए हैं। भारत में 7 मई को सबसे ज्यादा 4.14 लाख केस आए थे। तब से नए केसों में 27% की कमी आई है। देश के 199 जिले ऐसे हैं, जहां 3 हफ्ते से संक्रमण कम हो रहा है। साभार-दैनिक भास्कर

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *