ताज़ा खबर :
prev next

जारी रहेगा लॉकडाउन लेकिन सोमवार से खुलेंगीं दुकानें, दिल्ली मेट्रो भी भरेगी रफ्तार, अरविंद केजरीवाल ने किया एलान

पढ़िये  दैनिक जागरण की ये खबर….

Delhi Unlock News Update अरविंद केजरीवाल ने एलान किया कि सोमवार से दफ्तर खोले जा रहे हैं। सरकारी दफ्तरों में क्लास वन और इससे ऊपर की श्रेणी के अफसर 100 फीसद आएंगे। इससे नीचे का स्टाफ 50 फीसद रहेगा। प्राइवेट दफ्तरों में 50 फीसद की अनुमति रहेगी।

​​नई दिल्ली। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को डिजिटल पत्रकार वार्ता के दौरान एलान किया कि लॉकडाउन तो 7 जून से आगे भी एक सप्ताह के लिए जारी रहेगा, लेकिन बाजार खुलेंगे और दिल्ली मेट्रो का संचालन भी शुरू होगा। अरविंद केजरीवाल ने यह भी एलान किया कि सोमवार से दफ्तर खोले जा रहे हैं। सरकारी दफ्तरों में क्लास वन और इससे ऊपर की श्रेणी के अफसर 100 फीसद क्षमता के साथ आएंगे। इससे नीचे का स्टाफ 50 फीसद उपस्थिति दर्ज कराएगा, वहीं, प्राइवेट दफ्तरों में 50 फीसद कर्मचारियों के आने की अनुमति रहेगी। अरविंद  केजरीवाल ने सभी प्राइवेट दफ्तरों से अपील की है कि वे अपने कर्मचारियों से वर्क फ्रॉम होम के तहत काम लें।

डिजिटल पत्रकार वार्ता के दौरान अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना संक्रमण के मामले अब कम हो गए हैं, संक्रमण दर पिछले कुछ दिनों से एक फीसद से नीचे है। ऐसे में बाजार के जुड़े संगठन बाजार खोले जाने के पक्ष में हैं। तमाम प्रस्ताव उनके पास आए हैं कि सख्त नियमों के साथ बाजार खोले जाने की अनुमति दी जाए। दिल्ली के बाजार एक माह से अधिक समय से बंद हैं। सोमवार सुबह पांच बजे लॉकडाउन समाप्त हाे रहा है। इससे पहले शनिवार को एलजी साहेब के नेतृत्व में दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक हुई है। इसमें तय हुआ है कि बाजारों व माल को सख्त नियमों के साथ खोला जाएगा। आधी दुकानें एक दिन और आधी दुकानें दूसरे दिन खुलेंगी। बाजार सुबह 8 बजे से रात 10 बजे तक ही खुलेंगे। इसके बाद Night Curfew लागू हो जाएगा।

अरविंद केजरीवाल के बड़े एलान

  • ऑड-इवेन के आधार पर खुलेंगी दुकानें
  • क्लास वन ऑफिसर आएंगे
  • 50 फीसद कर्मचारी के साथ निजी दफ्तर खोले जा सकते हैं।
  • दिल्ली मेट्रो 50 फीसद पैसेंजर  के साथ दौड़ेगी
  • बाजार सुबह 8 बजे से रात दस बजे तक खुलेंगे।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए शुक्रवार को विशेषज्ञों और फिर अधिकारियों के साथ बैठक की गई थी। इसमें तैयारियों पर चर्चा की गई। बैठक में यह बात सामने आई कि तीसरी लहर आती है तो हमें 37 हजार बेड की जरूरत पड़ेगी। इसी हिसाब से बेड तैयार करेंगे, ऑक्सीजन की उपलब्धता की जाएगी। दिल्ली के लिए 420 मीट्रिक टन ऑक्सीजन तैयार रखी जाए। आपूति के लिए 25 टैंकर खरीदे जा रहे हैं। 64 ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं। दवाइयों के लिए पर्याप्त व्यवस्था की जा रही है। साभार-दैनिक जागरण

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *