ताज़ा खबर :
prev next

वैक्सीन पर अखिलेश के सुर बदले:पिता मुलायम सिंह के वैक्सीन लगवाने के बाद सपा मुखिया ने कहा- वे BJP के टीके के खिलाफ थे, भारत सरकार का टीका वह भी लगवाएंगे

पढ़िये  दैनिक भास्कर की ये खबर….

अखिलेश ने जनवरी में कोरोना वैक्सीन को भाजपा की वैक्सीन बताते हुए भरोसा न करने की बात कही थी।

समाजवादी पार्टी (सपा) मुखिया अखिलेश यादव के कोरोना वैक्सीन को लेकर सुर बदल गए हैं। मंगलवार को उन्होंने कहा कि वे भाजपा के टीके के खिलाफ थे, लेकिन भारत सरकार का टीका लगवाएंगे। लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित भी करेंगे। अखिलेश ने ट्वीट कर लिखा – ‘जनाक्रोश को देखते हुए आखिरकार सरकार ने कोरोना के टीके के राजनीतिकरण की जगह ये घोषणा करी कि वो टीके लगवाएगी। हम भाजपा के टीके के खिलाफ थे पर भारत सरकार के टीके का स्वागत करते हुए हम भी टीका लगवाएंगे व टीके की कमी से जो लोग लगवा नहीं सके थे उनसे भी लगवाने की अपील करते हैं।

कल मुलायम सिंह ने लगवाई थी वैक्सीन, अखिलेश हुए थे ट्रॉल
सोमवार यानी कल सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने गुरुग्राम के मेदांता में कोविड वैक्सीन का पहला टीका लगवाया था। 82 साल के मुलायम सिंह यादव की टीका लगवाने की फोटो सोशल मीडिया पर आते ही यूजर्स ने अखिलेशन को ट्रोल करना शुरू कर दिया था। BJP प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने भी मुलायम सिंह यादव की फोटो शेयर करते हुए लिखा था, ‘एक अच्छा संदेश… आशा करता हूं कि सपा के कार्यकर्ता एवं उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष भी अपनी पार्टी के संस्थापक से प्रेरणा लेंगे।’

सोमवार को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में कोरोना की वैक्सीन लगवाते सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव।

जनवरी में कहा था- मैं भाजपा का टीका नहीं लगाऊंगा
दरअसल, अखिलेश ने 2 जनवरी को जब भारत में वैक्सीनेशन शुरू करने का ऐलान होने जा रहा था तब इसके खिलाफ विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था, ‘ये BJP का टीका है। इस पर भरोसा नहीं किया जा सकता है, इसलिए मैं अभी टीका नहीं लगवाने जा रहा हूं। हमारी सरकार बनेगी तो सभी को मुफ्त वैक्सीन मिलेगी।’ उनका यह बयान आने के बाद उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने चिकित्सकों व वैज्ञानिकों का अपमान बताते हुए अखिलेश से माफी मांगने की मांग की थी। अखिलेश यादव के बयान पर सोशल मीडिया पर भी बड़ा हंगामा हुआ था।

भाजपा को वही फैसला करना पड़ा जो सपा कह रही थी
सपा प्रवक्ता एमएलसी सुनील साजन ने कहा कि, देश में टीके को लेकर जनाक्रोश के बाद आखिरकार भारतीय जनता पार्टी को वही फैसला करना पड़ा जो समाजवादी पार्टी कह रही थी। समाजवादी लोग हमेशा से कहते रहे हैं कि टीकाकरण मुफ्त होना चाहिए। हमने यह भी कहा था कि 2022 में सपा सरकार के आते ही मुफ्त टीकाकरण कराएगी। भारतीय जनता पार्टी लगातार जो टीके पर राजनीति कर रही थी, समाजवादी पार्टी उस बीजेपी के टीके के खिलाफ थी, ना कि देश के टीके के। हमारे नेता ने स्पष्ट किया है कि हम भी भारत का टीका लगवाएंगे।

भाजपा प्रवक्ता- अखिलेश जी अपने बयानों पर माफी मांग ले, अन्यथा रोज झूठ बोलना पड़ेगा
वहीं,भाजपा प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने कहा कि अखिलेश जी झूठ के एक सुराख को बंद करने के लिए झूठों का छप्पर उनके ऊपर डालना होता है। अभी भी समय है वैक्सीन पर दिए गए अपने बयानों पर माफी मांग लीजिए। नहीं तो अन्यथा रोज झूठ बोलना पड़ेगा। साभार-दैनिक भास्कर

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *