ताज़ा खबर :
prev next

UPSSSC PET 2021: पीईटी के लिए अब तक 15 लाख से ज्यादा आवेदन, अप्लाई के लिए आज अंतिम दिन

पढ़िए दैनिक जागरण की ये खबर…

UPSSSC PET 2021 यूपीएसएसएससी की ओर से आयोजित की जाने वाली प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) के लिए रविवार शाम पांच बजे तक कुल 2438483 अभ्यर्थी आयोग की वेबसाइट पर पंजीकरण करा चुके थे। इनमें से 1527981 अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन आवेदन पूरा भरकर उसे सबमिट कर दिया है।

लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। उत्तर प्रदेश सरकार की सेवाओं में भविष्य में विज्ञापित होने वाले समूह ‘ग’ के पदों पर भर्ती के लिए उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यूपीएसएसएससी) की ओर से आयोजित की जाने वाली प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) के लिए रविवार शाम पांच बजे तक कुल 24,38,483 अभ्यर्थी आयोग की वेबसाइट पर पंजीकरण करा चुके थे। इनमें से 15,27,981 अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन आवेदन पूरा भरकर उसे सबमिट कर दिया है। सोमवार यानी 21 जून को ऑनलाइन आवेदन जमा करने की आखिरी तारीख है।

पीईटी के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम समयसीमा नजदीक आते ही वेबसाइट पर पंजीकरण कराने और अन्य औपचारिकताएं पूरी करने के लिए अभ्यर्थी जुटे हुए हैं। रविवार को 1,58,366 तो शनिवार को 2,40,092 अभ्यर्थियों ने पीईटी के लिए पंजीकरण कराया। शनिवार को 1,82,797 तो रविवार को 1,34,022 अभ्यर्थियों ने आनलाइन आवेदन पूरे भरकर जमा किए। आखिरी समय में ऑनलाइन आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों की भारी संख्या के कारण आयोग की वेबसाइट न खुलने की शिकायतें भी मिल रही हैं। आयोग एनआइसी के जरिये इस समस्या का समाधान करा रहा है।

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष प्रवीर कुमार ने कहा कि समूह ‘ग’ भर्तियों के लिए भविष्य में आयोजित की जाने वाली मुख्य परीक्षाओं में शामिल होने के लिए पीईटी में शामिल होना अनिवार्य है। पीईटी के अंकों के आधार पर ही मुख्य परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों की शार्टलिस्टिंग की जाएगी। उन्होंने ऑनलाइन आवेदन के लिए समयसीमा बढ़ाये जाने से इन्कार किया है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने समूह ‘ग’ के पदों पर भर्तियों के लिए द्विस्तरीय परीक्षा प्रणाली अपनाने का फैसला किया है। इसी के तहत पहले चरण में पीईटी का आयोजन करने की तैयारी है। पीईटी के लिए आयोग ने बीती 25 मई से आवेदन आमंत्रित किये हैं। सबमिट किये गए आवेदन पत्रों में अभ्यर्थी 28 जून तक संशोधन कर सकते हैं।

पीईटी 2021 प्रदेश के सभी जिलों में आयोजित की जाएगी। इसमें शामिल होने वाले अभ्यर्थियों की संख्या लगभग 30 से 35 लाख अनुमानित है। लिहाजा आयोग के अध्यक्ष प्रवीर कुमार ने सभी मंडलायुक्तों और जिलाधिकारियों को पत्र भेजकर परीक्षा के आयोजन के लिए जिला व मंडल स्तरीय नोडल अधिकारियों को नामित करने और परीक्षा केंद्रों का चयन करने की कार्रवाई तत्काल करने को कहा है। साभार-दैनिक जागरण

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *