ताज़ा खबर :
prev next

यूपी में धर्म परिवर्तन का बड़ा खुलासा, पुलिस का दावा- एक हजार गैर मुस्लिमों का कराया गया धर्म परिवर्तन

पढ़िए एबीपी गंगा की ये खबर…

पुलिस के मुताबिक बेरोजगार, गरीब परिवार और मूक बधिर लोगों का धर्म परिवर्तन कराया जाता था. पुलिस ने बताया कि धर्म परिवर्तन के बाद महिलाओं की शादी भी कराई गई है.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में लालच देकर बड़े धर्म परिवर्तन रैकेट का खुलासा हुआ है. यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि करीब एक हजार लोगों का धर्म परिवर्तन कराया गया है. इस मामले में दिल्ली से आरोपियों की गिरफ्तारी भी हुई है.

पुलिस के मुताबिक बेरोजगार, गरीब परिवार और मूक बधिर लोगों का धर्म परिवर्तन कराया जाता था. यूपी एटीएस ने दो आरोपियों को दिल्ली से गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक लोगों को लालच देकर उनका धर्म परिवर्तन कराया जाता था. धर्म परिवर्तन के लिए आईएसआई की फंडिंग का मामला सामने आया है.

धर्म परिवर्तन के बाद महिलाओं की शादी भी कराई गई है

पुलिस ने बताया कि धर्म परिवर्तन के बाद महिलाओं की शादी भी कराई गई है. इस काम के लिए एक पूरा गिरोह काम कर रहा था. इन लोगों का रैकेट और भी कई राज्यों में सक्रिय होने की बात सामने आई है.

प्रशांत कुमार ने बताया कि मूक-बधिर छात्रों और निर्धन लोगों को धन, नौकरी व शादी का लालच देकर धर्मांतरण कराने वाले गिरोह के मुफ्ती काजी जहांगीर आलम (निवासी जोगाबाई, जामिया नगर, नयी दिल्‍ली) और मोहम्‍मद उमर गौतम (निवासी बाटला हाउस, जामिया नगर, नयी दिल्‍ली) को एटीएस ने गिरफ्तार किया है. उन्होंने बताया कि एटीएस को कुछ समय से यह सूचना मिल रही थी कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई और अन्य विदेशी माध्यमों से पैसे एकत्र कर कुछ लोग धर्मांतरण कराने और धार्मिक वर्गों में आपसी वैमनस्य फैलाने के लिए प्रयासरत हैं. इस सूचना पर एटीएस उत्तर प्रदेश की टीम ने रविवार को काजी जहांगीर और उमर गौतम को पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया. उन्होंने बताया कि लखनऊ के एटीएस थाने में उनके व उनकी संस्था इस्लामिक दावा सेंटर व अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी, साजिश, धार्मिक वैमनस्य फैलाने, किसी धर्म को अपमानित करने सहित विभिन्न आरोपों में मामला दर्ज किया गया है.

उमर गौतम से पूछताछ में धर्मांतरण कराने की पुष्टि हुई है

प्रशांत कुमार ने बताया कि उमर गौतम पहले हिंदू था लेकिन उसने मुस्लिम धर्म स्वीकार कर लिया और धर्मांतरण कराने में सक्रिय हो गया. उन्होंने उमर के हवाले से बताया कि अभी तक उसने करीब एक हजार गैर मुस्लिम लोगों को मुस्लिम धर्म में धर्मांतरित कराया और उनकी मुस्लिमों से शादी कराई है. यह अभियान जामिया नगर, नयी दिल्‍ली में संचालित इस्लामिक दावा सेंटर नामक संस्था के जरिये चलाया जा रहा है. पुलिस के अनुसार, उमर गौतम से पूछताछ में धर्मांतरण कराने की पुष्टि हुई है. प्रशांत कुमार ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों को अदालत में पेश कर पुलिस हिरासत में दिए जाने का अनुरोध किया जाएगा. साभार-एबीपी गंगा

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *