ताज़ा खबर :
prev next

गाजियाबाद में 200 किसानों पर बलवे का केस दर्ज:BJP नेताओं की 80 गाड़ी तोड़ने का आरोप; राकेश टिकैत बोले- आंदोलन के मंच पर कब्जा करना चाहते थे भाजपाई

पढ़िए  दैनिक भास्करकी ये खबर…

राकेश टिकैत ने कहा- स्वागत के बहाने भाजपा के लोग हुड़दंग मचाते हुए मंच स्थल तक आ गए। भाजपा वाले अपने साथ कुछ बाहरी लोग लाए थे। उन्होंने ही पूरा माहौल खराब किया, ताकि आंदोलन को बदनाम किया जा सके।

गाजियाबाद स्थित गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हुए झड़प के मामले में भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने गुरुवार को बड़ा आरोप लगाया है। उनका दावा है कि भाजपा के लोग पिछले तीन दिन से मंच के करीब आ रहे थे। वह माहौल खराब करना चाहते थे। वह मंच पर कब्जा करना चाहते थे। बुधवार को भी यही हुआ। स्वागत के बहाने भाजपा के लोग हुड़दंग मचाते हुए मंच स्थल तक आ गए। भाजपा वाले अपने साथ कुछ बाहरी लोग लाए थे। उन्होंने ही पूरा माहौल खराब किया, ताकि आंदोलन को बदनाम किया जा सके। वहीं, 200 किसानों पर कौशांबी थाने में बलवे के आरोप में केस दर्ज हुआ है।

उपद्रवियों को चिन्हित करने में जुटी पुलिस

दरअसल, जनपद बुलंदशहर निवासी अमित वाल्मीकि को भाजपा का प्रदेश मंत्री और प्रशांत वशिष्ठ को प्रदेश प्रवक्ता बनाया गया है। दोनों भाजपा नेता बुधवार दोपहर दिल्ली से यूपी बॉर्डर के रास्ते गाजियाबाद होते हुए बुलंदशहर आ रहे थे। स्वागत समारोह काफिले में करीब 50 से ज्यादा गाड़ियां मौजूद थी। गाजियाबाद पुलिस की जिप्सी पूरे काफिले को एस्कॉर्ट करते हुए चल रही थी। तभी कौशांबी थाना क्षेत्र में गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने भाजपा नेताओं को काले झंडे दिखाए। इस दौरान किसानों और भाजपा नेताओं के बीच टकराव हो गया।

भाजपा नेत्री बोलीं- रॉड, तलवार, चाकुओं से किया गया हमला
वैशाली निवासी भाजपा की पूर्व महानगर अध्यक्ष (महिला मोर्चा) सिद्धि प्रधान ने कौशांबी थाने में 200 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। सिद्धि के अनुसार, करीब 70-80 गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई है। महिला कार्यकर्ताओं पर हमला हुआ है। आरोप है कि भारतीय किसान यूनियन के कुछ लोगों ने सरिए, तलवार, लाठी-डंडे, चाकू आदि हथियारों से प्रदेश मंत्री समेत कई नेताओं पर हमला किया। भाजपा के जिला महामंत्री राजेन्द्र वाल्मीकि का आरोप है कि भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत और उनके लोगों ने निहत्थे भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला किया। इसमें कइयों को चोटें भी आई हैं।

आज प्रदर्शन की आशंका को लेकर गाजियाबाद में एसएसपी कार्यालय पर लगी फोर्स।

पुलिस देख रही हाइवे के CCTV
गाजियाबाद के एसपी (ग्रामीण) डॉक्टर ईरज राजा ने कहा कि हाइवे पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। उनकी फुटेज देखी जा रही है। इस घटनाक्रम की कुछ वीडियो भी सामने आई हैं, उनकी भी पड़ताल चल रही है।

किसान नेता बाजवा बोले- आंदोलन को बदनाम करने की साजिश
पूरे प्रकरण में गाजीपुर किसान मोर्चे के सदस्य और किसान नेता जगतार सिंह बाजवा ने कहा कि यह किसान आंदोलन को बदनाम करने के लिए भाजपा का षड्यंत्र है। किसानों के मंच के पास आकर भाजपाइयों ने ढोल बजाए। स्वागत के नाम पर हुड़दंग किया गया। हमने पुलिस को बताया कि भाजपा के लोगों को धरनास्थल से दूर किया जाए। भाजपाईयों ने एक षड्यंत्र के तहत अपनी गाड़ियों के शीशे खुद तोड़े हैं। हम गाजियाबाद पुलिस से लिखित शिकायत कर रहे हैं। साभार-दैनिक भास्कर

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *