ताज़ा खबर :
prev next

Delhi Traffic Alert: जाम में फंसने से बचना है तो नोएडा-गाजियाबाद जाने से पहले पढ़ लें यह जरूरी खबर

पढ़िये न्यूज़18 की ये खास खबर….

Delhi Traffic Alert: दिल्‍ली ट्रैफिक पुलिस ने किसान नेताओं की जंतर-मंतर पर किसान संसद (Kisan Sansad) और संसद के मौजूदा मॉनसून सत्र (Parliament Monsoon Season) को देखते हुए कई रूट्स में बदलाव किया है. इसके कारण कई जगह यातायात प्रभावित रहेगा. इस वजह से नोएडा और गाजियाबाद के लोगों को खासी परेशानी हो सकती है.

नई दिल्‍ली. दिल्‍ली ट्रैफिक पुलिस ने संसद के मौजूदा मॉनसून सत्र (Parliament Monsoon Season) और किसान नेताओं की जंतर-मंतर (Jantar-Mantar) पर आज से शुरू हुई किसान संसद (Kisan Sansad ) के आयोजन के कारण कई रूट में बदलाव किया है. दिल्ली पुलिस ट्रैफिक के मुताबिक, स्‍थानीय पुलिस पिकेट के कारण दिल्‍ली की कई सड़कों पर यातायात प्रभावित रहेगा.

बहरहाल, दिल्‍ली ट्रैफिक पुलिस ने जिन रूट्स को लेकर अलर्ट जारी किया है, इनमें से कुछ रूट नोएडा और गाजियाबाद से भी जुड़े हैं. नोएडा या गाजियाबाद जाने वाले लोगों को इन रूट्स पर ट्रैफिक जाम का सामना करना पड़ सकता है. ऐसे में एनसीआर के इन दो प्रमुख शहारों की ओर जाने वाले लोग वैकल्पिक मार्ग का इस्‍तेमाल कर हैवी ट्रैफिक में फंसने से बच सकते हैं.

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के अलर्ट के अनुसार, एम्स से अरबिंदो चौक की ओर, नोएडा से दिल्ली (कालिंदी कुंज) की ओर, नोएडा से अक्षरधाम (चिल्ला बॉर्डर) की ओर, नोएडा से आश्रम (डीएनडी) की ओर के साथ-साथ गाजियाबाद से दिल्ली (पांडव नगर) की ओर जाने वाले रूट्स पर यातायात प्रभावित रहेगा.

किसानों ने कही ये बात
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस पर किसान नेताओं ने बड़ा आरोप लगाया है. किसान नेता मंजीत सिंह राय ने कहा कि पुलिस जानबूझकर हमें घुमा रही है. ये हमारा समय बर्बाद कर रहे हैं. हमारा रूट पहले से तय था. बसों के जरिए सिंघु बॉर्डर से जंतर मंतर जाना था और फिर उतरकर पार्लियामेंट जाना था, लेकिन कह रहे हैं कि कॉलोनी से जाएं. इतने पुलिस बल की जरूरत नहीं थी.

बता दें कि किसान नेताओं और दिल्‍ली पुलिस की दो दौर की बातचीत बेनतीजा रहने के बाद केजरीवाल सरकार ने किसानों को जंतर-मंतर पर किसान संसद की अनुमति दी है. वहीं, किसानों की सुरक्षा के मद्देनजर दिल्‍ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों की 5 कंपनियां तैनात की गई हैं. सभी के पहचान पत्र चेक करने के बाद ही बैरिकेड के अंदर जाने दिया जा रहा है. जबकि किसान संसद के जरिए किसान सुबह 11 से शाम 5 बजे तक अपना प्रदर्शन कर सकेंगे. साभार- न्यूज़18

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *